आपके भीतर इतना धैर्य कैसे है, ईडी अधिकारियों के सवाल पर राहुल बोले- कांग्रेस का कार्यकर्ता हूं

नेशनल हेराल्ड केस में पांच दिनों तक चली पूछताछ के बाद राहुल गांधी ने कार्यकर्ताओं से साझा किए अनुभव, बोले- ईडी को भी समझ आ गया कि कांग्रेस कार्यकर्ताओं को डराया नहीं जा सकता

Updated: Jun 22, 2022, 05:13 PM IST

आपके भीतर इतना धैर्य कैसे है, ईडी अधिकारियों के सवाल पर राहुल बोले- कांग्रेस का कार्यकर्ता हूं

नई दिल्ली। नेशनल हेराल्ड केस में पांच दिनों तक चली पूछताछ के बाद राहुल गांधी ने बुधवार को अपने कार्यकर्ताओं को संबोधित किया। इस दौरान उन्होंने पूछताछ के कुछ अनुभव भी साझा किए और ईडी को निशाने पर भी लिया। राहुल गांधी ने कहा कि अब ईडी को भी समझ में आ गया है कि कांग्रेस कार्यकर्ताओं को डराया नहीं जा सकता।

राहुल गांधी ने कहा, 'अधिकारियों ने आखिरी दिन मुझसे कहा की राहुल जी आपने काफी धैर्य के साथ सभी सवालों का जवाब दिया। हर सवाल को आपने सुना और धैर्य के साथ उसका उत्तर दिया। इतनी धैर्य आपके भीतर कहां से आई? मैने कहा भैया ये तो आपको नहीं बता सकता। पहले आपने थकान को लेकर पूछा मैने जवाब दिया, लेकिन धैर्य के बारे में नहीं बता सकता आपको। आप जानते जो धैर्य कहां से आई। कह देना था कांग्रेस पार्टी में 2004 से काम कर रहा हूं। धैर्य भी आएगी तो क्या आएगी। इस बात को कांग्रेस पार्टी का हर नेता समझता है।'

उन्होंने चुटकी लेते हुए कहा कि, 'देखो बैठे हुए हैं... सचिन पायलट जी बैठे हुए हैं। धैर्य के साथ। इसपर कार्यकर्ता और नेता तालियां बजाने लगे। उन्होंने आगे कहा कि सब बैठे हुए हैं, मैं बैठा हुआ हूं, धैर्य के साथ बैठे हुए हैं। हमारी पार्टी हमें थकने नहीं देती है और हमें रोज धैर्य सिखाती है। इसी से हमें मजबूती मिलती है, और हमलोग लड़ते हैं। उधर धैर्य की कोई जरूरत नहीं। उधर बस हाथ जोड़ दो, मत्था टेक लो, काम हो जाएगा।'

राहुल गांधी ने आगे कहा कि, 'ED के अधिकारियों को भी यह बात समझ आ गई कि कांग्रेस पार्टी के नेता को डराया नहीं जा सकता है, दबाया या धमकाया नहीं जा सकता है, क्योंकि कांग्रेस पार्टी सच्चाई के लिए लड़ती है। सच्चाई में धैर्य की कोई कमी नहीं होती है। 
सच्चाई कभी थकती नहीं है, झूठ जरूर थक जाएगा। ED के कमरे में राहुल गांधी अकेला नहीं बैठा था, उस कमरे में राहुल गांधी के साथ कांग्रेस का हर नेता, कार्यकर्ता बैठा हुआ था।'

उन्होंने आगे कहा कि, 'आप एक आदमी को थका सकते हो, लेकिन आप कांग्रेस पार्टी के करोड़ों कार्यकर्ताओं, नेताओं को नहीं थका सकते। सिर्फ कांग्रेस पार्टी के नेता और कार्यकर्ता उस कमरे में नहीं थे, बल्कि इस सरकार के खिलाफ जो भी बिना डरे लड़ता है, वह बैठा था। उन व्यक्तियों को स्पेशल इन्विटेशन ED ने नहीं दिया, मगर जो भी हिंदुस्तान के लोकतंत्र के लिए लड़ रहे हैं, वो सभी मेरे पास उस कमरे में बैठे हुए थे, तो थकूंगा कैसे?'

कांग्रेस नेता ने आगे कहा कि, 'ईडी का छोटा मामला है, छोड़िये, सबसे जरूरी यह बात कि, यह हमारे युवा देशभक्ति के चिन्ह हैं। सुबह 4 बजे दौड़ते हैं। इनके भविष्य की रक्षा करना हमारा काम है। कांग्रेस ने कहा था कि किसानों के बिल वापस लेने पड़ेंगे, बाद में इन्होंने लिया ना? अब कांग्रेस कह रही है अग्निपथ योजना को वापस लेना पड़ेगा, देश का हर युवा हमारे साथ खड़ा मिलेगा। क्योंकि देश का युवा जनता है सच्ची देशभक्ति सेना को मजबूत करने की होती, कमजोर करके नहीं होती है। मोदी जी ने सेना के साथ जो देश के साथ धोखा किया है, इसको हम रद्द कराएंगे।'