देश की 60 फीसदी आबादी की आवाज़ दबा रही है मोदी सरकार, पैदल मार्च के बाद राहुल गांधी ने बोला हमला

विपक्षी सांसदों ने राहुल गांधी की अगुवाई में निकाला पैदल मार्च, संसद की कार्यवाही स्थगित होने और महिला सांसदों के साथ हुई बदसलूकी के खिलाफ निकला पैदल मार्च, संसद से विजय चौक तक का विपक्षी सांसदों ने पैदल तय किया सफर

Updated: Aug 12, 2021, 04:14 PM IST

देश की 60 फीसदी आबादी की आवाज़ दबा रही है मोदी सरकार, पैदल मार्च के बाद राहुल गांधी ने बोला हमला

नई दिल्ली। संसद में विपक्ष की मांगों को दरकिनार किए जाने के बाद आज विपक्ष मोदी सरकार के खिलाफ सड़क पर उतर आया। कांग्रेस नेता राहुल गांधी की अगुवाई में संसद परिसर से विजय चौक तक विपक्षी दलों ने पैदल मार्च निकाला। पैदल मार्च के बाद कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने मोदी सरकार पर हमला बोलते हुए कहा कि सरकार देश की 60 फीसदी आबादी की आवाज़ दबाने का काम कर रही है। 

राहुल गांधी ने मीडिया से मुखातिब होते हुए कहा कि सरकार ने हमें संसद में पेगासस, कृषि कानूनों और महंगाई पर चर्चा करने नहीं दिया। इसलिए हमें हमारी आवाज़ संसद के बाहर बुलंद करनी पड़ी। हमें सदन के भीतर पेगासस पर चर्चा नहीं करने दिया गया। कृषि कानूनों पर कोई चर्चा नहीं हुई। इसलिए हमने सदन के बाहर इन मुद्दों को उठाया। 

राहुल गांधी ने कहा कि पहली बार राज्यसभा में सांसदों की पिटाई की गई। बाहर से लोगों को बुलाकर सांसदों के साथ बदसलूकी की गई। राहुल गांधी ने प्रधानमंत्री मोदी पर निशाना साधते हुए कहा कि प्रधानमंत्री चंद उद्योगपतियों के हाथों देश की आत्मा को बेचने का काम कर रहे हैं।

राहुल ने मीडिया कर्मियों से कहा कि आज हम आप लोगों से बात करने आए हैं, क्योंकि सरकार ने हमें संसद में बोलने नहीं दिया।राहुल ने कहा कि सरकार जरूरी मुद्दों पर चर्चा न कर सिर्फ विपक्ष ही नहीं देश की आधी से ज्यादा आबादी की आवाज़ को कुचलने का प्रयास कर रही है, जो कि लोकतंत्र की हत्या करने के समान है। 

शिवसेना नेता संजय राउत ने कहा कि बुधवार को ऐसा लग रहा था जैसे संसद में मार्शल लॉ लगा दिया गया हो। जैसे हम पाकिस्तान में रह रहे हों। बुधवार को हंगामे के बाद पहले लोकसभा और फिर देर शाम राज्यसभा को अनिश्चितकाल के स्थगित कर दिया गया। इस दौरान सुरक्षा कर्मियों द्वारा विपक्षी दलों की तीन महिला सांसदों के साथ बदसलूकी करने का भी आरोप लगा। 

यह भी पढ़ें : संसद के मॉनसून सत्र का अवसान, तय समय से दो दिन पहले खत्म हुआ सत्र

संसद में जन सरोकार से जुड़े मुद्दों पर चर्चा किए बगैर मॉनसून सत्र को समाप्त करने के मुद्दे पर विपक्ष मोदी सरकार का विरोध कर रहा है। आज 15 विपक्षी दल के नेता राहुल गांधी की अगुवाई में पैदल मार्च में शामिल हुए। अब विपक्षी दल के नेता राज्यसभा के सभापति वैंकैया नायडू ने मिलने की तैयारी कर रहे हैं।