Anurag Kashyap: पायल घोष के आरोपों को अनुराग कश्यप ने बताया बेबुनियाद

Payal Ghosh: अनुराग कश्यप ने अपने ऊपर लगे यौन शोषण के आरोपों को किया ख़ारिज, विनोद कापड़ी भी अनुराग के समर्थन में उतरे

Updated: Sep-20, 2020, 11:46 PM IST

Anurag Kashyap: पायल घोष के आरोपों को अनुराग कश्यप ने बताया बेबुनियाद
Photo Courtesy : The Statesman

नई दिल्ली। मशहूर फिल्म मेकर अनुराग कश्यप पर पायल घोष ने यौन शोषण के आरोप लगाए हैं। इसके जवाब में अनुराग कश्यप ने पायल घोष के तमाम आरोपों को सिरे से खारिज करते हुए बेबुनियाद बताया है। अनुराग कश्यप ने कहा है कि यह तो अभी बस शुरुआत है उनके ऊपर अभी कई हमले किए जाने बाकी हैं।  

अनुराग कश्यप ने ट्विटर पर अपनी प्रतिक्रिया ज़ाहिर करते हुए लिखा है 'क्या बात है, इतना समय ले लिया मुझे चुप करवाने की कोशिश में । चलो कोई नहीं। मुझे चुप कराते कराते इतना झूठ बोल गए की औरत होते हुए दूसरी औरतों को भी संग घसीट लिया। थोड़ी तो मर्यादा रखिए मैडम। बस यही कहूँगा की जो भी आरोप हैं आपके सब बेबुनियाद हैं।'

अनुराग कश्यप ने आगे कहा 'बाक़ी मुझपे आरोप लगाते लगाते, मेरे कलाकारों और बच्चन परिवार को संग में घसीटना तो मतलब नहले पे चौका भी नहीं मार पाए। मैडम दो शादियाँ की हैं, अगर वो जुर्म है तो मंज़ूर है और बहुत प्रेम किया है, वो भी क़बूलता हूँ । चाहे मेरी पहली पत्नी हों, या दूसरी पत्नी हों या या कोई भी प्रेमिका या वो बहुत सारी अभिनेत्रियाँ जिनके साथ मैंने काम किया है, या वो पूरी लड़कियों और औरतों की टीम जो हमेशा मेरे साथ काम करती आयीं हैं, या वो सारी औरतें जिनसे मैं मिला बस, अकेले में या जनता के बीच मैं इस तरह का व्यवहार ना तो कभी करता हूँ ना तो कभी किसी क़ीमत पे बर्दाश्त करता हूं। बाक़ी जो भी होता है देखते हैं । आपके वीडियो में ही दिख जाता है कितना सच है कितना नहीं, बाक़ी आपको बस दुआ और प्यार। आपकी अंग्रेज़ी का जवाब हिंदी में देने के लिए माफ़ी।'

 अनुराग कश्यप ने आगे कहा कि 'अभी तो बहुत आक्रमण होने वाले हैं। यह बस शुरुआत है । बहुत फ़ोन आ चुके हैं, कि नहीं मत बोल और चुप हो जा । यह भी पता है कि पता नहीं कहाँ कहाँ से तीर छोड़ें जाने वाले हैं । इंतेज़ार है ।'    

गौरतलब है कि अभिनेत्री पायल घोष ने हाल ही में डायरेक्टर अनुराग कश्यप पर यौन शोषण के आरोप लगाए थे। पायल ने अपने एक ट्वीट में प्रधानमंत्री मोदी से अनुराग कश्यप के खिलाफ कार्रवाई करने की मांग की थी। पायल ने कहा था कि देश को पता चलना चाहिए कि एक क्रिएटिव आदमी के पीछे कितना बड़ा राक्षस छिपा हुआ है।

 पायल को घटना का साल क्यों याद नहीं है ? 
फिल्म मेकर और पत्रकार विनोद कापड़ी अनुराग कश्यप के समर्थन में उतर आए हैं। विनोद कापड़ी ने पायल घोष के एक इंटरव्यू का हवाला देते हुए पूछा है कि पायल को आखिर इतनी बड़ी घटना का साल याद क्यों नहीं है ? दरअसल पायल इंटरव्यू में यह कहती नज़र आ रही हैं कि अनुराग कश्यप ने जब उनसे ज़बरदस्ती की थी तो 2014 या 2015 का साल था। विनोद कापड़ी ने ट्वीट करते हुए कहा है कि 'पायल घोष की शिकायत पर @anuragkashyap72 पर जाँच हो FiR हो जेल भेज दो सूली पर लटका दो मेरा एक ही सवाल है कि इतने साल बाद जब ये शिकायत कर रही हैं तो इन्हें घटना का साल भी याद नहीं 2014 या 2015 ?