एकता, सद्भाव और भाईचारे का पौधा: अंडमान की मिट्टी-पानी से राहुल ने सुचिंद्रम में किया पौधरोपण

जिन राज्यों से यात्रा नहीं गुजर रही है वहां के लोग मिट्टी-पानी लेकर राहुल गांधी से मिलने आ रहे हैं, भारत जोड़ो यात्रा के दूसरे दिन अंडमान की मिट्टी से राहुल गांधी ने सुचिंद्रम में किया पौधरोपण

Updated: Sep 09, 2022, 01:09 AM IST

एकता, सद्भाव और भाईचारे का पौधा: अंडमान की मिट्टी-पानी से राहुल ने सुचिंद्रम में किया पौधरोपण

सुचिंद्रम। भारत जोड़ो यात्रा को दक्षिण भारत में अभूतपूर्व जनसमर्थन प्राप्त हो रहा है। यह यात्रा न सिर्फ ऐतिहासिक जगहों से होकर गुजर रही है, बल्की अपने पीछे एक नए इतिहास को बनाते हुए भी आगे बढ़ रही है। भारत जोड़ो यात्रा को इतिहास के पन्नों में यादगार बनाने के लिए राहुल गांधी रास्ते में पौधरोपण भी कर रहे हैं। यह पौधरोपण विशिष्ट इसलिए है क्योंकि दूसरे राज्यों से मंगवाई गई मिट्टी और पानी का उपयोग किया जा रहा है।

दरअसल, जिन राज्यों से होकर भारत जोड़ो यात्रा नहीं गुजर रही है, वहां के स्थानीय लोग मिट्टी पानी और पौधा लेकर राहुल गांधी से मिलने पहुंच रहे हैं। राहुल गांधी को लोग मिट्टी-पानी और पौधा भेंट करते हैं और वे इसे रास्ते में ही रोपते हुए आगे बढ़ रहे हैं। गुरुवार को अंडमान एंड निकोबार आइलैंड से आए यात्रियों ने उन्हें मिट्टी-पानी और पांच पौधे भेंट किए।

राहुल गांधी ने इन्हें सुचिंद्रम के 101 साल पुराने उस ऐतिहासिक स्कूल के परिसर में रोपा जहां स्वतंत्रता संग्राम के दौरान देशवासियों को एकजुट करने के मकसद से सन 1937 में महात्मा गांधी भी आए थे। कांग्रेस ने इसे एकता, सद्भाव और भाईचारे का पौधा बताया है। बता दें कि कन्याकुमारी जिले के सुचिंद्रम स्थित S.M.S.M HR Sec School प्रशासन ने महात्मा गांधी के हस्ताक्षर को आजतक सहेजकर रखा है।

यह भी पढ़ें: सुचिंद्रम के 101 साल पुराने स्कूल में यात्रा का दोपहर पड़ाव, स्वतंत्रता संग्राम के दौरान महात्मा गांधी भी यहां रुके थे

सुचिंद्रम में राहुल गांधी ने जवाहर बाल मंच के बच्चों से भी बातचीत की। इस दौरान बच्चों ने कांग्रेस नेता राहुल गांधी को अन्ना कहकर बुलाया और कहा कि हम राहुल अन्ना से अनुरोध करते हैं कि वो अपनी बात रखें। वहीं राहुल गांधी ने स्कूली छात्रों को संबोधित करते हुए भारत जोड़ो यात्रा के बारे में भी जानकारी दी। राहुल गांधी ने इस दौरान जवाहर बाल मंच द्वारा आयोजित पेंटिंग प्रतियोगिता के विजेताओं को अवॉर्ड भी दिया।

जानकारी के मुताबिक इस प्रतियोगिता में 224 बच्चों ने हिस्सा लिया, जिसमें 178 ड्रॉइंग प्रदर्शित की गई। प्रतियोगिता की थीम भारत जोड़ो यात्रा पर आधारित थी। कार्यक्रम के दौरान स्कूल का परिसर "भारत जोड़ो- बच्चे जोड़ो" के नारों से गूंज उठा। राहुल गांधी ने इस दौरान महिला एक्टिविस्ट्स, दलित एक्टिविस्ट्स और सिविल सोसायटी के लोगों के साथ भी चर्चाएं की। साथ ही उन्होंने आश्वासन दिया कि वह उनके सभी मुद्दों को एड्रेस करेंगे।