मोदी का दावा, नंदीग्राम में दीदी हो चुकी हैं क्लीन बोल्ड, बीजेपी ने पहले ही जड़ दिया है शतक

मोदी ने बर्धमान रैली में ममता पर बोला हमला, कहा, मां और माटी को लूटा जा रहा है और मानुष का खून बहाया जा रहा है

Updated: Apr 12, 2021, 04:35 PM IST

मोदी का दावा, नंदीग्राम में दीदी हो चुकी हैं क्लीन बोल्ड, बीजेपी ने पहले ही जड़ दिया है शतक
Photo Courtesy : Times Of India

कोलकाता। पश्चिम बंगाल में जारी विधानसभा चुनावों के बीच आज एक बार फिर प्रधानमंत्री मोदी ने ममता बनर्जी पर हमला बोला। ममता पर हमला बोलने के साथ ही मोदी एक बार फिर बीजेपी की जीत का दावा करना नहीं भूले। मोदी ने कहा कि ममता नंदीग्राम में क्लीन बोल्ड हो चुकी हैं। जबकि बीजेपी अब तक हुए चुनावों में ही शतक लगा चुकी है।  

मोदी ने बर्धमान में  अपने चित परिचित अंदाज़ में मुख्यमंत्री को चिढ़ाते हुए कहा, 'दीदी ओ दीदी, आप पहले ही नंदीग्राम में क्लीन बोल्ड हो चुकी हैं। इसके साथ ही मोदी ने कहा है कि बीजेपी ने पहले चार चरण के मतदान के दौरान ही अपना शतक पूरा कर लिया है। मोदी के मुताबिक पहले चार चरण के मतदान में बंगाल की जनता ने इतने छक्के चौके लगाए हैं कि बीजेपी ने पहले ही 100 का आंकड़ा पार कर लिया है।  

यह भी पढ़ें : बंगाल चुनाव: पहले चरण में 3-4 सीटों पर सिमट जाएगी बीजेपी, दिलीप घोष की कथित चिट्ठी वायरल

मोदी ने ममता पर हमला बोलते हुए कहा कि दीदी ने बंगाल में सिर्फ मां और माटी को लूटा जा रहा है। जबकि मानुष का खून बहाया जा रहा है। मोदी ने टीएमसी के किसी नेता के एक बयान का ज़िक्र करते हुए कहा कि टीएमसी के नेता अनुसूचित जाति के लोगों की तुलना भिखारियों से कर रहे हैं। आप ही बताइए कि क्या ऐसी बयानबाज़ी करना क्या बिना दीदी की अनुमिति के संभव है? 

प्रधानमंत्री मोदी के अपने भाषण में टीएमसी नेता के बयान का उल्लेख और उसको लेकर पूर्णतः ममता बनर्जी को ज़िम्मेदार ठहराए जाने ने खुद प्रधानमंत्री को अपनी पार्टी के नेताओं की अनर्गल बयानबाज़ी के लिए ज़िम्मेदार ठहरा दिया है। मोदी के दावे को अगर सही माना जाए तो खुद प्रधानमंत्री ने आज सार्वजनिक तौर पर यह बात स्वीकारी है कि किसी राजनीतिक दल के नेता द्वारा की जाने वाली अनर्गल बयानबाज़ी पार्टी हाईकमान के निर्देश पर की जाती है। इस लिहाज़ से जब भी बीजेपी का कोई नेता सार्वजनिक तौर पर कोई विवादित बयान देता है तो वो बीजेपी हाईकमान के कौन से सीनियर नेता की अनुमति पर ऐसा करता होगा? यह अपने आप में एक बड़ा सवाल है।