Rajasthan : नरम पड़े सचिन पायलट, अशोक गहलोत का शक्ति प्रदर्शन

Sachin Pilot : कांग्रेस के पूर्व राष्ट्रीय अध्यक्ष राहुल गांधी के हस्तक्षेप के बाद सचिन पायलट ने दिए BJP में ना जाने के संकेत

Publish: Jul 13, 2020 09:41 PM IST

Rajasthan : नरम पड़े सचिन पायलट, अशोक गहलोत का शक्ति प्रदर्शन

राजस्थान राजनीतिक संकट के बीच अब उपमुख्यमंत्री सचिन पायलट का विद्रोह अब ठंडा पड़ता नजर आ रहा है। बताया जा रहा है कि कांग्रेस के पूर्व राष्ट्रीय अध्यक्ष राहुल गांधी के हस्तक्षेप के बाद पायलट नरम पड़े हैं। पार्टी और सचिन के बीच सीधा चैनल खुल गया है और सचिन ने अपनी बात पार्टी के बता दी है। पार्टी ने सचिन की कुछ बातें मानने के भी संकेत दिए हैं। वहीं राजस्थान कांग्रेस ऑफिस में सचिन पायलट का पोस्टर वापस लगा दिया गया है, जो सुबह साढ़े ग्यारह बजे हटा दिया गया था। हालांकि, सचिन ने पहले ही साफ कर दिया था कि वे बीजेपी में शामिल नहीं होंगे।

यह सारा घटनाक्रम तब हुआ है जब राजस्थान के मुख्यमंत्री ने सीएम आवास पर विधायकों को इकट्ठा कर शक्ति प्रदर्शन किया। कांग्रेस के राष्ट्रीय प्रवक्ता ने दावा किया कि गहलोत सरकार की बैठक में 102 विधायक पहुंचे, वहीं कुछ विधायक निजी वजहों से नही आ पाए। उन्होंने सचिन पायलट का नाम ना लेते हुए यह भी कहा कि किसी की व्यक्तिगत महत्वकांक्षाओं के लिए पार्टी को बर्बाद नहीं किया जा सकता है। हालांकि, उन्होंने यह भी कहा कि यह कहना गलत होगा कि सचिन ने पार्टी के खिलाफ बगावत की।

राजस्थान कांग्रेस विधायक दल की बैठक करीब साढ़े बारह बजे शुरू हुई। इस बैठक के ठीक पहले रणदीप सुरजेवाला ने कहा कि अगर कोई पार्टी से नाराज है तो बातचीत के लिए पार्टी के दरवाजे खुले हुए हैं। उन्होंने यह भी बताया कि कांग्रेस पार्टी सचिन पायलट के संपर्क में है।

कांग्रेस विधायक दल की बैठक से ठीक पहले सचिन पायलट ने कहा कि अशोक गहलोत का उनके साथ 102 विधायक होने का दावा गलत है क्योंकि 25 विधायक मेरे साथ हैं। विधायक दल की बैठक के बाद गहलोत ने मीडिया को बुलाकर शक्ति प्रदर्शन किया।