बंगाल विधानसभा में जूतम-पैजार, BJP MLA हुए चोटिल, शुभेंदु अधिकारी समेत पांच निलंबित

बीरभूम नरसंहार को लेकर पश्चिम बंगाल विधानसभा में हंगामा, टीएमसी और बीजेपी विधायकों के बीच हुई मारपीट, विधानसभा अध्यक्ष ने पांच बीजेपी विधायकों को किया सस्पेंड

Updated: Mar 28, 2022, 01:44 PM IST

बंगाल विधानसभा में जूतम-पैजार, BJP MLA हुए चोटिल, शुभेंदु अधिकारी समेत पांच निलंबित

कोलकाता। पश्चिम बंगाल विधानसभा के बजट सत्र का आखिरी दिन हंगामेदार रहा। बीरभूम नरसंहार मामले को लेकर टीएमसी और बीजेपी विधायक भीड़ गए। इस दौरान मामला मारपीट तक पहुंच गया। इस मारपीट में बीजेपी विधायक असित मजूमदार घायल हो गए। मजूमदार को इलाज के लिए अस्पताल में भर्ती करवाया गया है। 

जानकारी के मुताबिक सोमवार को विधानसभा की कार्यवाही शुरू होते ही बीजेपी विधायकों ने राज्य में हिंसा और कानून व्यवस्था को लेकर सवाल खड़े किए। बीजेपी नेता बीरभूम हिंसा पर चर्चा की मांग कर रहे थे। नेता प्रतिपक्ष शुभेंदु अधिकारी ने सत्र की शुरुआत में बोलना शुरू किया तो टीएमसी ने हंगामा शुरू कर दिया। इसके बाद बीजेपी के सदस्य वेल के भीतर आ गए और उन्होंने नारेबाजी शुरू कर दी।

यह भी पढ़ें: OSCAR 2022 में बवाल, Will Smith ने होस्ट को जड़ा थप्पड़, बेस्ट एक्टर का अवार्ड लेते हुए रो पड़े

इतने में टीएमसी विधायकों ने विपक्षी सदस्यों की पिटाई शुरू कर दी। इस पूरे घटनाक्रम में बीजेपी विधायक असित मजूमदार घायल हो गए और मनोज तिग्गा के कपड़े फाड़े गए। मजूमदार को नाक पर चोट लगी है और उन्हें अस्पताल में भर्ती कराया गया है। उधर विधानसभा अध्यक्ष ने घटना को लेकर बीजेपी के पांच सदस्यों को सस्पेंड कर दिया है। इनमें शुभेंदु अधिकारी, मनोज तिग्गा, शंकर घोष, दीपक बरमन और नरहारी महतो शामिल हैं।

विधानसभा के भीतर हुई इस मारपीट का वीडियो बीजेपी आईटी सेल के चीफ अमित मालवीय ने ट्वीट किया है। इसके साथ ही उन्होंने लिखा कि, 'पश्चिम बंगाल विधानसभा में भगदड़। बंगाल के राज्यपाल के बाद, टीएमसी विधायकों ने अब मुख्य सचेतक मनोज तिग्गा सहित भाजपा विधायकों पर हमला किया, क्योंकि वे सदन के पटल पर रामपुरहाट हत्याकांड पर चर्चा की मांग कर रहे थे। क्या छुपाना चाहती हैं ममता बनर्जी?'