स्मृति ईरानी की बेटी के रेस्टोरेंट पर फर्जीवाड़े का आरोप, अवैध तरीके से ली शराब लाइसेंस

स्मृति ईरानी की बेटी Zoish Irani के रेस्त्रां पर फर्जी दस्तावेजों से शराब का लाइसेंस का आरोप, आबकारी कमिश्नर ने भेजा नोटिस

Updated: Jul 23, 2022, 11:15 AM IST

स्मृति ईरानी की बेटी के रेस्टोरेंट पर फर्जीवाड़े का आरोप, अवैध तरीके से ली शराब लाइसेंस

नई दिल्ली। केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी का नाम एक और फर्जीवाड़े से जुड़ गया है। इस बार वह अपनी बेटी के कारण सुर्खियों में हैं। आरोप है कि स्मृति ईरानी की बेटी जोइश ईरानी ने गोवा में स्थित अपने रेस्टोरेंट के लिए अवैध तरीके से शराब का लाइसेंस हासिल किया है। मामले में आबकारी कमिश्नर ने उन्हें नोटिस भेजा है।

स्मृति ईरानी की बेटी जोइश ईरानी गोवा के अस्सागाव में एक "सिली सोल्स कैफे एंड बार" नाम से एक पॉश रेस्त्रां चलाती हैं। यह रेस्त्रां तब विवादों में घिर गया जब पता चला कि इसके मालिकों ने शराब के लाइसेंस को रिन्यू करवाने के लिए एक मृत व्यक्ति के नाम का सहारा लिया। आबकारी कमिश्नर ने बताया कि जिसके नाम से बार का लाइसेंस है, उसकी मौत मई 2021 में ही हो चुकी है। बावजूद इसके उसी के नाम का पिछले महीने ही लाइसेंस रिन्यू करवाया गया है। 

यह भी पढ़ें: लड़का-लड़की साथ न बैठें इसलिए BJP नेताओं ने कटवा दिए थे बेंच, अब एक दूसरे की गोद में बैठे स्टूडेंट्स

इतना ही नहीं आबकारी विभाग ने यह भी बताया कि आवेदन में लाइनेंस धारक की जगह किसी और के द्वारा साइन किए गए थे और कहा था कि प्लीज इस लाइसेंस को 2022-23 के लिए रिन्यू करें और 6 महीने के अंदर इस लाइनेंस को ट्रांसफर करा दिया जाएगा। यह भी आरोप लगाया है कि जोईश ने बार लाइसेंस पाने के लिए धोखाधड़ी और मनगढ़ंत दस्तावेज पेश किए। 

लाइसेंस रिन्यूवल के लिए आवेदन 22 जून 2022 को एंथनी डीगामा के नाम से किया गया था। हालांकि, उनकी मौत सालभर पहले यानी मई 2021 को हो चुकी है। अब इस मामले की सुनवाई 29 जुलाई को होगी। शिकायतकर्ता वकील रोड्रिग्स ने आरटीआई के जरिए इस मामले के दस्तावेज हासिल किए थे। उनका कहना है कि वे चाहते हैं कि केंद्रीय मंत्री की फैमिली द्वारा आबकारी अधिकारियों और लोकल पंचायत के साथ मिलकर जो गड़बड़ी और धोखाधड़ी की है, वो सबके सामने आए।

मामला सामने आने के बाद कांग्रेस स्मृति ईरानी पर हमलावर है। कांग्रेस प्रवक्ता अलका लांबा ने कहा कि, 'स्मृति ईरानी इस बात की जानकारी दें कि उनकी बेटी को कमिश्नर द्वारा नोटिस दी गई है। खुलासा हुआ है कि आपकी बेटी जो गोवा में एक रेस्टोरेंट चलाती हैं, वहां पर शराब परोसने के लिए जो लाइसेंस बनवाया गया था, वह फर्जी तरीके से बनाया गया है। देश यह जानना चाहता है कि क्या आपने अपनी कुर्सी और सत्ता का दुरुपयोग कर के ऐसा काम किया है? आप हमें बताइए कि फर्जी लाइसेंस बनवाकर रेस्टोरेंट चलवाने में, आपने अपनी बेटी की मदद की है या नहीं?'