Bihar Voting: बिहार में पहले चरण की 71 सीटों पर करीब 54% मतदान

जमुई के 12 बूथों पर शाम 7 बजे तक वोटिंग, 36 विधानसभा सीटों पर शाम 6 बजे तक हुआ मतदान, औरंगाबाद जिले के ढिबरा इलाके से सुरक्षाबलों ने दो IED विस्फोटक बरामद किए, छिटपुट हिंसा में 3 लोगों के मारे जाने की खबर

Updated: Oct 29, 2020, 03:13 AM IST

Bihar Voting: बिहार में पहले चरण की 71 सीटों पर करीब 54% मतदान
Photo Courtesy: India Today

बिहार विधानसभा चुनाव 2020 के पहले चरण में आज शाम 6 बजे तक 53.54 फीसदी मतदान दर्ज किया गया। पहले चरण में 16 जिलों की 71 सीटों पर सख्त सुरक्षा के बावजूद छिटपुट हिंसा के बीच वोटिंग खत्म हो गई। कई सीटों पर विभिन्न प्रत्याशियों के समर्थक आपस में भिड़ गए। तीन अलग -अलग जगहों पर तीन की मौत की भी खबर है। सुबह मतदान के शुरुआती दौर में कई जगहों पर बड़़ी संख्या में ईवीएम खराब मिल रही थी। इसकी वजह से जमुई के 12 बूथों पर मतदान का समय बढ़ाकर 7 बजे करना पड़ा, जिसके चलते मतदान के फाइनल आंकड़े आने में कुछ देर हो सकती है। राज्य की 36 विधानसभा सीटों पर शाम 6 बजे तक मतदान हुआ। औरंगाबाद जिले के ढिबरा इलाके से सुरक्षाबलों ने दो IED विस्फोटक भी बरामद किए।

राजधानी पटना में शाम तक 52.52 फीसदी मतदान हुआ। बिहार में आज 16 जिलों की कुल 71 सीटों पर कुल मिलाकर 1066 उम्मीदवारों की किस्मत का फैसला ईवीएम में बंद हो गया। कोरोना महामारी के बीच आज देश में पहली बार मतदान हुआ। चुनाव आयोग की शाम को हुई प्रेस कॉन्फ्रेंस में मुख्य चुनाव आयुक्त सुनील अरोड़ा ने कहा कि इस बार स्थिति एकदम अलग है। कोरोना महामारी के बीच सुरक्षित चुनाव कराना एक बड़ी चुनौती है, लेकिन बिहार के लोगों ने सभी दिशा-निर्देशों का पालन करते हुए वोटिंग की। 

राहुल के खिलाफ चुनाव आयोग पहुंची बीजेपी

इस बीच, बीजेपी ने कांग्रेस नेता राहुल गांधी के ट्वीट की शिकायत चुनाव आयोग से कर दी है। बीजेपी ने महागठबंधन के लिए वोट मांगने वाले राहुल गांधी के ट्वीट को चुनाव आचार संहिता का उल्लंघन मानते हुए कार्रवाई करने की मांग की है। 

इस बीच, जमुई से आरजेडी उम्मीदवार विजय प्रकाश ने आरोप लगाया है कि करीब 55 बूथ पर ईवीएम काम नहीं कर रही है। उनका कहना है कि ईवीएम बदली भी जा चुकी है फिर भी ऐसा हो रहा हैय़ ऐसे में यहां चुनाव रद्द होना चाहिए। इससे पहले मुंगेर के तारापुर विधानसभा क्षेत्र में भी कई बूथों पर ईवीएम खराब होने के कारण मतदान में रुकावट की खबरें आ चुकी हैं। आज सुबह बिहार के औरंगाबाद जिले के ढिबरा इलाके से सुरक्षाबलों ने दो IED विस्फोटक बरामद किए जाने की खबर भी आई थी।  

सासाराम में बूथ पर हंगामा

सासाराम में बूथ पर हंगामे की खबर भी आ रही है। उधर पटना जिले के पालीगंज प्रखंड के मेरा-पतौना पंचायत के एक गांव में मतदाताओं ने वोटिंग नहीं करने का फैसला लिया है। यहां के वोटरों ने 'रोड नहीं तो वोट नहीं' के नारे के साथ मतदान नहीं करने का निर्णय लिया है। लखीसराय के बालगुदर में भी  लोगों ने खेल मैदान पर संग्रहालय निर्माण के विरोध में वोट का बहिष्कार किया है।

आज जिन उम्मीदवारों की किस्मत का फैसला होना है, उनमें आठ मंत्रियों समेत 952 पुरुष और 114 महिला प्रत्याशी शामिल हैं। पहले चरण में जिन आठ मंत्रियों के भाग्य का फैसला होना है, वे हैं कृषि मंत्री प्रेम कुमार, शिक्षा मंत्री कृष्णनंदन प्रसाद वर्मा, ग्रामीण कार्य मंत्री शैलेश कुमार, विज्ञान एवं प्रावैधिकी मंत्री जयकुमार सिंह, भूमि सुधार एवं राजस्व मंत्री राम नारायण मंडल, श्रम मंत्री विजय कुमार सिन्हा, खनन मंत्री बृजकिशोर बिंद और परिवहन मंत्री संतोष कुमार निराला। पहले चरण के चुनाव में बिहार के 2 करोड़ 14 लाख 84 हजार 787 मतदाता अपने मताधिकार का प्रयोग करेंगे।

बिहार चुनाव के लिए राहुल गांधी का शुभकामना संदेश 

बिहार विधानसभा चुनाव के लिए कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने शुभकामना संदेश दिया है। आज_बदलेगा_बिहार के हैशटैग से उन्होंने ट्वीट किया है, "इस बार न्याय, रोज़गार, किसान-मज़दूर के लिए आपका वोट हो सिर्फ़ महागठबंधन के लिए। बिहार के पहले चरण के मतदान की आप सभी को शुभकामनाएं।"

आपको बता दें कि राहुल गांधी आज पश्चिम चंपारण के वाल्मीकि नगर और समस्तीपुर के कुशेश्वरस्थान में जनसभा को संबोधित करेंगे। अब तक घोषित कार्यक्रम के मुताबिक राहुल गांधी की जनसभा वाल्मीकि नगर में आज दोपहर 12 बजे और कुशेश्वरस्थान में दोपहर 2.30 बजे होनी है।
 

राज्य के चुनाव आयोग ने मतदान की कुछ तस्वीरें ट्विटर पर शेयर की हैं, जिनमें लोग कोरोना गाइडलाइन्स का ध्यान रखते हुए मतदान कर रहे हैं।

 

 

 

बिहार चुनाव की खास बातें

बिहार चुनाव में इस बार मुख्य रूप से दो मोर्चों की टक्कर है। पहला सत्ताधारी जेडीयू और बीजेपी का गठबंधन। दूसरा, आरजेडी के नेतृत्व वाला महागठबंधन। महागठबंधन में कांग्रेस और वामपंथी पार्टियां भी शामिल हैं। मुख्य मुकाबला इन्हीं दोनों गठबंधनों के बीच माना जा रहा है। हालांकि इनके अलावा एलजेपी एनडीए से बाहर जेडीयू के खिलाफ चुनाव लड़ रही है और बीजेपी को समर्थन दे रही है। चुनाव में तीसरे और चौथे मोर्च भी सामने हैं। 

नीतीश कुमार चौथी बार राज्य का मुख्यमंत्री बनने की कोशिश कर रहे हैं। पिछली बार उन्होंने आरजेडी और कांग्रेस के साथ मिलकर गठबंधन में चुनाव लड़ा था और जीत भी हासिल की थी। लेकिन बाद में नीतीश कुमार ने आरजेडी का साथ छोड़ा और पाला बदलकर चुनाव हारने वाली बीजेपी के साथ चले गए। 

243 सीटों वाली बिहार विधानसभा के चुनाव तीन चरणों में कराए जा रहे हैं। जिनमें से आज पहले चरण में 16 जिलों की 71 सीटों पर मतदान हो रहा है। बिहार चुनाव के दूसरे और तीसरे चरण का मतदान 3 और 7 नवंबर को होगा। चुनाव का परिणाम 10 नवंबर को आएगा।