डॉक्टर सीमा अग्रवाल ने पेश की मिसाल, साइकल पर अकेले की नर्मदा परिक्रमा

बनारस की सीमा अग्रवाल ने साइकल पर की नर्मदा यात्रा, अकेले 28 दिन में पूरी की नर्मदा परिक्रमा, रोजाना चलाती थीं 100 किलोमीटर से ज्यादा साइकल

Updated: Mar 31, 2021, 09:11 PM IST

डॉक्टर सीमा अग्रवाल ने पेश की मिसाल, साइकल पर अकेले की नर्मदा परिक्रमा

नरसिंहपुर। बनारस की रहने वाली डाक्टर सीमा अग्रवाल ने साइकल पर नर्मदा परिक्रमा की है। उनका कहना है कि इच्छा शक्ति मजबूत हो तो दुनिया का कोई काम नामुमकिन नहीं है। महिलाओं को अपनी ताकत पहचानना चाहिए। मन की इच्छाओं को पूरा करना चाहिए। समय से ज्यादा कीमती कुछ भी नहीं है। 40 वर्षीय सीमा अग्रवाल पेशे से डॉक्टर हैं।

उन्होंने साइकल से हजारों किलोमीटर की दूरी तय करके नर्मदा परिक्रमा करने का संकल्प लिया है। वे इस यात्रा पर अकेली ही निकली थीं। उन्होंने जबलपुर से नर्मदा यात्रा की शुरुआत की थी। वे रोजाना 100 से 110 किलोमीटर की दूरी तय करती थी। उन्होंने करीब 28 दिन में नर्मदा परिक्रमा पूरी की है।

जबलपुर के ग्वारीघाट से उन्होंने यात्रा की शुरुआत की थी। अब 28 दिनों बाद यात्रा पूर्ण पर लोगों ने उनका भव्य स्वागत किया। ग्वारीघाट पहुंचने से पहले नरसिंहपुर के तेंदूखेड़ा में भी लोगों ने उनका जोरदार स्वागत किया।

सीमा का मानना है कि नर्मदा मध्यप्रदेश की जीवन रेखा है। नर्मदा को स्वच्छ रखने का प्रयास करना चाहिए। ताकि मां नर्मदा का स्वरूप सुंदर बना रहे। उनकी कहना है कि वे इस यात्रा के माध्यम से लोगों को  संदेश देना चाहती है कि आत्मशक्ति मजबूत हो तो संसार का कोई कार्य संभव नहीं है।