छत्तीसगढ़ में कोरोना की तीसरी लहर का कहर, एक दिन में मिले 698 केस, सीएम बोले लॉकडाउन अंतिम विकल्प

रायपुर फिर बना हॉट स्पॉट, IIT भिलाई के 50 छात्र, SSB के 5 जवानों में संक्रमण की पुष्टि, टीएस सिंह देव समेत छात्रों के सैंपल जीनोम सीक्वेंसिंग के लिए भुवनेश्वर भेजे गए

Updated: Jan 04, 2022, 01:21 PM IST

छत्तीसगढ़ में कोरोना की तीसरी लहर का कहर, एक दिन में मिले 698 केस, सीएम बोले लॉकडाउन अंतिम विकल्प
Photo Courtesy: TV 9

रायपुर। छत्तीसगढ़ में कोरोना के मामले तैजी से बढ़ रहे हैं। बीते 24 घंटे में कोरोना के 698 नए मरीज सामने आए हैं। जिनमें से रायपुर में 222  मरीज मिले हैं। बिलासपुर में 364. रायगढ़ में 357, दुर्ग में 152, कोरबा में 134 मरीज मिले हैं। रायगढ़ में 103, दुर्ग में 43, कोरबा में 39, जांजगीर-चांपा में 26, सूरजपुर में 22 और राजनांदगांव में 18, मुंगेली और जशपुर में 13-13 मरीजों की पुष्टि हुई है। सरगुजा में 12, कबीरधाम, कोरिया में 9-9 और धमतरी, बलौदा बाजार, सुकमा, कांकेर में 5-5 मरीज मिले हैं।

कांकेर में SSB के 5 जवानो में कोरोना की पुष्टि हुई है। इन जवानों की पोस्टिंग नक्सल प्रभावित इलाके कन्हारगांव के SSB कैंप में है। इन्हें आइसोलेट कर दिया गया है। वहीं सोमवार को सुकमा में कोबरा 202 बटालियन के 38 जवान कोरोना पॉजिटिव आए थे। वहीं छत्तीसगढ़ के स्वास्थ्य मंत्री टीएस सिंह देव कोरोना महामारी की चपेट में दूसरी बार आ गए हैं। उनमें कोरोना के नए वेरिएंट के संक्रमण की आशंका है। स्वास्थ्य मंत्री 2 जनवरी से होम आइसोलेशन में हैं। ओमिक्रॉन की आशंका के मद्देनजर उनका सैंपल जीनोम सीक्वेंसिंग के लिए भेजा गया है।

वहीं छात्रों के संक्रमित होने का सिलसिला भी नहीं थम रहा है। IIT भिलाई के रायपुर कैंपस में 50 नए मरीज मिले हैं। यहां के हॉस्टल के 245 छात्रों का टेस्ट किया गया था। इस कैंपस में अब तक 63 छात्रों में कोरोना की पुष्टि हो चुकी है। सभी को उनके कमरों में ही आइसोलेट कर दिया गया है। स्वास्थ्य विभाग IIT भिलाई के रायपुर कैंपस के सभी मरीजों के सैंपल जीनोम सीक्वेंसिंग के लिए भुवनेश्वर भेजे जा रहे हैं। प्रदेश में कोरोना संक्रमितों का आंकड़ा 10,09,454 पहुंच गया है।  अब तक 9,93,911 मरीज रिकवर हो चुके हैं। 1942 एक्टिव मरीज है,अब तक कोरोना 13,601 लोगों की मौत हो चुकी है।

 और पढ़ें: देश में एक दिन में मिले 37 हजार से ज्यादा कोरोना मरीज, दिल्ली के मुख्यमंत्री भी कोरोना की चपेट में

छत्तीसगढ़ में कोरोना केस लगातार बढ़ रहे हैं। जिसे लेकर शासन प्रशासन सख्ती कर रहा है। सरकार किसी तरह का कोई चांस नहीं लेना चाहती। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने प्रदेश के सभी जिलों को अलर्ट रहने के निर्देश दिए हैं। सीएम ने कहा है कि प्रदेश तेजी से तीसरी लहर की तरफ बढ़ रहा है और सबसे आखिरी विकल्प लॉकडाउन है। मुख्यमंत्री ने कहा है कि कोरोना मरीजों की जल्द पहचान और तत्काल से स्थिति पर काबू पाया जा सकता है।