मैं बैंक में पैसे जमा करने आउंगा तुम बैग लेकर भाग जाना, ऐसे हुई कैनेरा बैंक से 4 लाख की उठाईगिरि

पुलिस ने कैनेरा बैंक से 4 लाख की चोरी का किया खुलासा, कंपनी के मुंशी ने दोस्त के साथ रची थी उठाईगिरि की साजिश, पुलिस ने CCTV की मदद से किया गिरफ्तार

Updated: Dec 16, 2021, 06:54 PM IST

मैं बैंक में पैसे जमा करने आउंगा तुम बैग लेकर भाग जाना, ऐसे हुई कैनेरा बैंक से 4 लाख की उठाईगिरि
Photo Courtesy: Bhaskar

रायपुर। राजधानी के तेलीबंधा स्थित कैनेरा बैंक में 4 लाख की उठाईगिरि की मामला पुलिस ने सुलझा लिया है। इस केस का फरियादी ही आरोपी निकला है। कंपनी का वही मुंशी जो पैसे बैंक में जमा करने आया था उसी ने इस लूट की साजिश रची थी। 4 लाख की लूट के मास्टरमाइंड ने अपने दोस्त को इस प्लान में शामिल किया था। उसने दोस्त से कहा था कि मैं बैंक में रुपए से भरा बैग लेकर आउंगा, तुम उसे छीनकर भाग जाना, मामला शांत होने के बाद हम लोग आपस में पैसे बांट लेंगे। आरोपी के मनसूबे सफल हो पाते उसके पहले ही पुलिस ने उनका भंडाफोड़ कर दिया।

रायपुर की पुलिस ने खुलासा किया है कि 4 लाख की उठाईगिरि करने वाले हेमंत तिवारी को CCTV फुटेज के आधार पर गिरफ्तार कर लिया गया है। गिरफ्तार शख्स की निशानदेही पर पुलिस ने प्रभात नायक को भी गिरफ्तार कर लिया है। प्रभात ने पुलिस को बरगलाने के लिए झूठी कहानी रची थी। पुलिस ने इस मामले को 24 घंटे में ही सुलझा लिया है।

दरअसल रायपुर स्थित एशियन भारत कंस्ट्रक्शन कंपनी का मुंशी प्रभात नायक 4 लाख रुपए जमा कराने कैनरा बैंक गया था। उसने कैश काउंटर के पास बैग रखा और दूसरे काउंटर पर पर्ची लेने चला गया। तभी पहले से तैयार हेमंत तिवारी रुपए से भरा बैग लेकर चंपत हो गया। पहले तो प्रभात ने बैंक में फिर अपने मालिक के पास रुपए चोरी होने पर खूब ड्रामा किया। इस मामले की शिकायत एशियन भारत कंस्ट्रक्शन के कंपनी मालिक ने पुलिस में दर्ज करवाई। जिसके बाद पुलिस ने पूरे शहर में नाकेबंदी कर आरोपी की तलाश की। इलाके के करीब 100 से ज्यादा CCTV के आधार पर उसकी गाड़ी का नंबर ट्रेस किया गया।

पुलिस ने आरोपी को घर से गिरफ्तार कर लिया है, उसके घर से रुपयों से भरा बैग भी बरामद किया गया है, उसमें से करीब 50 हजार रुपए उसने कर्जा चुकाने में खर्च कर दिए थे। हेमंत ने पुलिस को बताया कि वह इनदिनों कड़की से गुजर रहा था, वहीं प्रभात भी ज्यादा पैसे बनाने के लालच में था। दोनों ने एक रात बैंक के सामने बैठकर ही इसकी पूरी प्लानिंग की थी।