आर्यन खान को NCB दफ्तर में हाजिरी से मिली राहत, अब दिल्ली SIT के बुलावे पर हाजिर होने के निर्देश

हर शुक्रवार NCB दफ्तर में हाजिर लगाने से परेशान आर्यन ने बाम्बे हाईकोर्ट में लगाई थी याचिका, दलील में कहा ड्रग केस की जांच SIT के पास जाने के बाद NCB की मुंबई ब्रांच नहीं है एक्टिव, कोर्ट ने राहत देते हुए कहा 72 घंटे के नोटिस पर दिल्ली NCB के पास होना होगा हाजिर

Updated: Dec 15, 2021, 03:58 PM IST

आर्यन खान को NCB दफ्तर में हाजिरी से मिली राहत, अब दिल्ली SIT के बुलावे पर हाजिर होने के निर्देश
Photo Courtesy: social media

बॉलीवुड सुपर स्टार शाहरुख खान के बेटे आर्यन खान के लिए मंगलवार का दिन काफी राहत लेकर आया। स्टार किड को मुंबई ड्रग केस में बड़ी राहत मिल गई है। अब उन्हें हर शुक्रवार को NCB दफ्तर में हाजिरी के लिए नहीं जाना होगा। अब उन्हें यह आदेश मिला है कि अब उन्हें SIT दिल्ली के समन की तामील करनी होगी। जब SIT की टीम बुलाएगी तब-तब उन्हें पूछताछ के लिए पहुंचना पड़ेगा। बुधवार को बॉम्बे हाई कोर्ट में आर्यन केस की सुनवाई हुई। जिसमें आर्यन के वकील अमित देसाई ने कहा कि वे शुक्रवार की हाजिरी मामले में जमानत की शर्त 'J' में संशोधन की मांग कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि अब यहां कुछ नहीं हो रहा है। वे जब चाहें उन्हें बुला सकते हैं। NCB की मुंबई ब्रांच भी SIT के पास मामला जाने के बाद केस में एक्टिव नहीं है। आर्यन को SIT के बुलावे पर 72 घंटों के भीतर उन्हें दिल्ली में टीम के सामने हाजिरी देनी होगी।

 जब से आर्यन खान की बेल हुए है वे हर शुक्रवार सुबह 11 से 2 बजे के बीच नार्कोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो के ऑफिस हाजिरी देने जाते थे। आर्यन को सशर्त मिली जमानत की यह शर्त थी। 14 शर्तों में से इस शर्त को बदलवाने के लिए आर्यन ने हाईकोर्ट में अपील कीथी। अपील में कहा गया था कि अब क्रूज शिप ड्रग केस NCB दिल्ली ने SIT को सौंप दिया है, तो आर्यन को भी NCB में हाजिरी से छूट मिलनी चाहिए। अपनी याचिका में आर्यन ने कहा था कि NCB दफ्तर जाते वक्त मीडिया उन्हें घेर लेता है। जिसकी वजह से उन्हें बेहद मुश्किलों का सामना करना पड़ता है।

और पढ़ें: बर्थ डे के दिन NCB के दफ्तर में पेश हुए आर्यन खान, ड्रग केस में हर शुक्रवार पेश होने की शर्त पर दी गई थी बेल

24 दिनों तक जेल में रहने के बाद 28 अक्टूबर को आर्यन खान को क्रूज शिप ड्रग्स केस मामले में 14 शर्तों के साथ जमानत मिली थी। आर्यन को एक लाख के मुचलके पर छोड़ा गया था। उन्हें मीडिया से बात करने औऱ बिना इजाजत देश छोड़ने की मनाही थी। उनका पासपोर्ट NDPS अदालत जमा है। शुक्रवार को NCB दफ्तर में हाजिरी के खिलाफ अब उन्हें थोड़ी राहत मिली है। अब तक वे 6 शुक्रवार तक एनसीबी की दफ्तर में हाजिरी के लिए पहुंच चुके हैं।