प्यार के लिए जापानी प्रिंसेस ने छोड़ी रॉयल फैमिली, करोड़ों की संपत्ति नहीं लेने का किया ऐलान

जापानी राजकुमारी माको अपने कॉमनर बॉयफ्रेंड से अक्टूबर में शादी करने वाली हैं, उन्होंने रायल फैमिली छोड़ने के बाद मिलने वाली करीब 9.10 करोड़ रुपये के हर्जाने की राशि लेने से इनकार कर दिया है

Updated: Sep 27, 2021, 05:17 PM IST

प्यार के लिए जापानी प्रिंसेस ने छोड़ी रॉयल फैमिली, करोड़ों की संपत्ति नहीं लेने का किया ऐलान
Photo Courtesy: vanity fair

टोक्यो। जापान की राजकुमारी अपने बचपन के दोस्त से शादी करने जा रही हैं। राजकुमारी माको ने फैसला किया है कि वे जापान के कॉमन मैन कोमुरो से हर हाल में शादी करेंगी। वे अपना प्यार पाने के लिए राजपरिवार और उससे मिलने वाली हर्जाने की रकम भी छोड़ रही हैं। वे अपनी शादी का सपना हर हाल में पूरा करना चाहती हैं। इसके लिए वे शाही परिवार को छोड़ने को तैयार हैं। 

राजकुमारी माको जापान के क्राउन प्रिंस की बेटी और सम्राट नारूहितो की भतीजी हैं। वे अपने बचपन के दोस्त कोमुरो से शादी करना चाहती हैं। शाही परिवार से अलग होकर शादी करने के लिए उन्हें शाही परिवार छोड़ना पड़ रहा है। माको और कोमुरो साथ में पढ़ते थे। दोनों का प्यार परवान चढ़ा औऱ उन्होंने सगाई कर ली। अब लंबे इंतजार के बाद दोनों शादी करने जा रहे हैं। 29 वर्षीय राजकुमारी माको ने 4 साल पहले 2017 में ऐलान किया की वे एक कामनर से शादी करना चाहती हैं। अब जापानी मीडिया ने खुलासा किया है कि दोनों अक्टूबर में शादी के बंधन में बंध सकते हैं।

राजकुमारी माको और कोमुरो ने फैसला किया है कि वे सादे अंदाज में शादी करेंगे। उनकी शादी में कोई शाही पारंपरिक समारोह नहीं होगा। इस शादी के बाद माको रायल फैमिली का हिस्सा नहीं रहेंगी। अब उन्होंने तय किया है कि आम इंसान से शादी करने पर मिलने वाला पेआउट नहीं लेंगी। पेआउट वह रकम होती है जो शाही परिवार से बाहर शादी करने वाले सदस्यों को दी जाती है। बताया जा रहा है कि करीब 9 करोड़ रुपये मिलने थे। शाही परिवार की बेटी द्वारा आम आदमी से शादी करने की देश में काफी निंदा की गई थी।

कोमुरो अमेरिका की एक लॉ कंपनी में कार्यरत हैं, उन्हें कुकिंग, स्कीईंग औऱ वायलिन बजाने का शौक है।  समुद्र तटों पर पर्यटन को बढ़ावा देने के लिए वह बतौर प्रिंस ऑफ द सी काम करते हैं। कुछ समय पहले राजकुमारी माको ने कहा था कि वे दोनों किसी हाल में अलग नहीं रह सकते। उनके लिए दिलों का सम्‍मान और जिंदगी जीने के लिए शादी एक आवश्‍यक विकल्‍प है।

कपल का मानना है कि वे अच्छे औऱ बुरे समय में एक दूसरे को सहारा दे सकते हैं। कोमुरो ने दिसंबर 2013 में एक डिनर के दौरान माको को शादी के लिए प्रपोज किया था। जिसे उन्होंने एक्सेप्ट तो कर लिया था लेकिन लोगों को कानों-कान खबर नहीं होने दी। राजकुमारी ने ब्रिटेन में पढ़ाई के बाद 2017 में घोषणा की थी कि वे एक आम आदमी से शादी करेंगी। यह शादी कई बार टाली जा चुकी है। सबसे पहले नवंबर 2018 में होना तय हुआ था, जिसके बाद उसे 2020 तक के लिए टाल दिया गया था।

लंबे विवाद के बाद जापान के क्राउन प्रिंसेस ने माको की शादी के लिए सहमति दी थी। जापानी संविधान में किसी भी शादी के लिए शादी में दूल्हे और दुल्हन दोनों की सहमति जरूरी है। पिता ने भी बेटी के फैसले का सम्मान करने की बात कहते हुए हां कह दिया था। राजकुमारी माको शादी के बाद वे अमेरिका में बसने वाली हैं। 

राजुकमारी माको से पहले उनकी बुआ राजुकमारी सयाको भी राजकुमारी की पदवी को लौटा चुकी हैं। उन्होंने 2005 में टोक्यो के एक ऑफीसर के साथ शादी की थी। 

जापान रॉयल फैमिली में पुरुषों को ही गद्दी मिलती है। राजकुमारी माको के छोटे भाई राजकुमार हिसाहितो अपने पिता आकिशिनो के अलावा गद्दी के इकलौते दावेदार हैं। रायल फैमिली से बाहर शादी करने वाली शाही महिलाओं के बेटों को गद्दी का उत्तराधिकारी नहीं माना जाता है।