तालिबानी हुकूमत: बिना हिजाब पहने एयरपोर्ट के पास पहुंची महिलाओं को मारी गोली, बदहवास भागे जा रहे हैं लोग

अफगानिस्तान में तालिबान का खौफ, मुल्क छोड़ने को मजबूर नागरिक, काबुल एयरपोर्ट पर अफरा तफरी, एक के ऊपर एक लदे जा रहे हैं लोग, सामने आया प्लेन में चढ़ने की जद्दोजहद का वीडियो, बैंकों से पैसे निकालने के लिए लगी लाइन

Updated: Aug 16, 2021, 03:48 PM IST

तालिबानी हुकूमत: बिना हिजाब पहने एयरपोर्ट के पास पहुंची महिलाओं को मारी गोली, बदहवास भागे जा रहे हैं लोग
Photo Courtesy: NDTV

काबुल। अफगानिस्तान पर तालिबानी आतंकियों का पूरी तरह कब्जा होने के बाद देशभर में दहशत का माहौल है। इसी बीच राजधानी काबुल से दिल दहलाने वाली खबर सामने आ रही है। भास्कर की रिपोर्ट के मुताबिक काबुल एयरपोर्ट के नजदीक तालिबानियों ने कई निर्दोष महिलाओं को मौत के घाट उतार दिया है। चूंकि, तालिबान काबुल में आजादी की अपनी पहली सुबह मना रहा है। पूरे शहर में सफेद तालिबानी झंडे दिखाई दे रहे हैं। इस दौरान लड़ाकों द्वारा लूटपाट करने की भी खबरें आ रही है। 

रिपोर्ट में बताया गया है कि ये महिलाएं एयरपोर्ट की ओर जा रही थीं। इनका कसूर सिर्फ इतना ही था कि उन्होंने हिजाब नहीं पहना था। बिना हिजाब पहने एयरपोर्ट के नजदीक महिलाओं पर जब आतंकियों की नजर गई तो उन्होंने सभी को गोली मार दिया। गोलीबारी के बीच एयरपोर्ट पर अफरातफरी मच गई, भीड़ को नियंत्रित करने के लिए वहां मौजूद अमेरिकी सेना ने भी हवाई फायरिंग की। फायरिंग और लोगों के भगने का वीडियो सोशल मीडिया पर तेजी से वायरल हो रहा है। 

दरअसल, तालिबानी कब्जे से डरे काबुल के लोग अब दूसरे देशों में जाने की जद्दोजहद में जूट गए हैं। काबुल एयरपोर्ट से बाहर आने के अलावे देश छोड़ने का कोई दूसरा ऑप्शन नहीं है। ऐसे में आज सुबह से हजारों की संख्या में लोग एयरपोर्ट पहुंचे हुए हैं। भीड़ पूरी तरह से अनियंत्रित हो गई है। अमेरिकी सेना ने एयरपोर्ट को अपने नियंत्रण में ले रखा है ताकि लोगों को रेस्क्यू किया जा सके।

यह भी पढ़ें: अफ़ग़ानिस्तान के राष्ट्रपति भवन में लहराया तालिबानी झंडा, तालिबान ने किया जंग समाप्ति का एलान

एयरपोर्ट पर भारी भीड़ के कारण कोई सुरक्षा जांच तक नहीं हो रही है। सोशल मीडिया पर काबुल एयरपोर्ट के कई वीडियो वायरल हो रहे हैं। वीडियो में देखा जा सकता है कि देश छोड़ने की जद्दोजहद में लोग किस तर प्लेन पर जाने के लिए एक पर एक लदे हुए हैं। ऐसी स्थिति है जैसे भारी भीड़ वाले रेलवे स्टेशन पर कोई ट्रेन का जनलर डब्बा हो। 

काबुल शहर से बाहर निकलने का रास्ता खोजने की कोशिश में कारों की लंबी कतारें लग गई हैं। लोग इधर-उधर बदहवास भागे जा रहे हैं। उधर बैंकों में भी भारी भीड़ है। लोग जल्द से जल्द अपनी सेविंग्स निकालना चाहते हैं। एटीएम के बाहर भी भारी भीड़ है। कुछ मीडिया रिपोर्ट्स में यह भी बताया गया है कि लोग किताबें जला रहे हैं और महिलाऐं बुरका खरीद रही हैं। 

यह भी पढ़ें: अफगानिस्तान छोड़कर भागे राष्ट्रपति अशरफ गनी, ताजिकिस्तान में लिया शरण

अमेरिका, ब्रिटेन, फ्रांस समेत कई बड़े देश अफगानिस्तान से अपने नागरिकों को निकालने के  लिए विशेष अभियान चला रहे हैं। भारत ने भी काबुल से रविवार को एयर इंडिया की फ्लाइट के जरिये अपने करीब 120 नागरिकों को बाहर निकाला है। लेकिन दावा किया जा रहा है की देश में 10 हजार भारतीय नागरिक फंसे हैं। इसी बीच अब एयरस्पेस बंद होने की भी खबर आ रही है। ऐसे में अन्य लोगों को निकालने के लिए काबुल जाने वाली एयर इंडिया की फ्लाइट ऑपरेट नहीं कर सकेगी।