यूक्रेन पर रूस का सबसे बड़ा हमला, 83 मिसाइलें दागीं, पुतिन बोले- अभी और भयानक हमले होंगे

खतरनाक मोड़ पर पहुंची रूस और यूक्रेन की जंग, रूस ने ताबड़तोड़ मिसाइलें दागकर मचाई तबाही, पुतिन ने दी धमकी, नहीं माना यूक्रेन तो और खतरनाक हमले होंगे

Updated: Oct 10, 2022, 11:09 PM IST

यूक्रेन पर रूस का सबसे बड़ा हमला, 83 मिसाइलें दागीं, पुतिन बोले- अभी और भयानक हमले होंगे

यूक्रेन और रूस के बीच 8 महीनों से जारी जंग अब बेहद खतरनाक मोड़ पर पहुंच गई। रूस ने यूक्रेन की राजधानी कीव समेत 9 शहरों पर सोमवार देर रात 83 मिसाइलें दागीं। इन हमलों में 12 नागरिक मारे गए और 57 घायल हैं। इसी बीच रूसी राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन का बयान भी सामने आया है। पुतिन ने धमकी देते हुए कहा कि अगर यूक्रेन नहीं माना तो और भी खतरनाक हमले होंगे।

दरअसल, शनिवार को यूक्रेन ने रूस का कर्च ब्रिज उड़ा दिया था। इस हमले को रूस ने आतंकी हरकत बताया था और अंजाम भुगतने की धमकी दी थी। 48 घंटे बाद रूस ने बदला लिया। रूसी हमले में यूक्रेन का पारकोवी ब्रिज भी तबाह हो गया। यह नाइपर नदी पर पैदल यात्रियों के लिए बनाया गया था। इस हमले को रूस ने आतंकी हरकत बताया था और अंजाम भुगतने की धमकी दी थी।

रूसी हमले पर जवाब देते हुए यूक्रेनी राष्ट्रपति जेलेंस्की ने कहा कि, 'अगर मॉस्को यह सोचता है कि वो हमें झुका लेगा तो यह उसकी गलतफहमी है। यूक्रेन के लोग न झुकेंगे और न रुकेंगे। हर हमले का माकूल जवाब बहुत जल्द दिया जाएगा।'

रूस और यूक्रेन में जारी युद्ध के बीच भारत ने कहा है कि वह दोनों देशों के बीच तनाव कम करने के प्रयासों का समर्थन करने को तैयार है। विदेश मंत्रालय के आधिकारिक प्रवक्ता अरिंदम बागची ने कहा कि भारत यूक्रेन युद्ध में तनाव बढ़ने को लेकर चिंतित है। मूलभूत सुविधाओं को निशाना बनाया जा रहा है और नागरिक मारे जा रहे हैं। हम दोहराते हैं कि युद्ध के और भड़कने से किसी का फायदा नहीं होगा। भारत तनाव को तुरंत कम करने और मतभेद को कूटनीति और बातचीत से सुलझाने की अपील करता है। भारत तनाव कम करने के सभी प्रयासों को समर्थन देने को तैयार है।