12 हजार रुपए की रिश्वत लेते पंधाना कृषि उपज मंडी का ASI गिरफ्तार, दो अन्य पर भी केस दर्ज

अनाज मंडी के लाइसेंस के नाम पर बुजुर्ग अनाज व्यापारी से ली थी रिश्वत, दो ASI और मंडी सचिव पर भ्रष्टाचार करने के आरोप में केस दर्ज, इंदौर लोकायुक्त की कार्रवाई

Updated: Sep 14, 2021, 06:30 PM IST

12 हजार रुपए की रिश्वत लेते पंधाना कृषि उपज मंडी का ASI गिरफ्तार, दो अन्य पर भी केस दर्ज
Photo Courtesy: Naidunia

खंडवा। लोकायुक्त पुलिस ने मंड़ी ASI को 12 हजार रुपए की रिश्वत लेते रंगे हाथ गिरफ्तार किया है। लोकायुक्त ने आरोपी सुनील वास्कले के साथ उसके दो सहयोगियों के खिलाफ भी मामला दर्ज किया है। आरोपियों में एक मंडी ASI और दूसरा मंडी सचिव है।अनाज मंडी के लाइसेंस के नाम  पर मांगी इस रिश्वत की रकम में से 5 हजार रुपए  मंडी सचिव शुभम सोनी को भी दिया जाना था। वहीं दूसरा ASI अरविंद मंडलोई भी काम करवाने के बदले अनाज व्यापारी से वसूली कर चुका था। उसने अपनी गाड़ी में पेट्रोल डलवाने के बहाने से भी एक हजार रुपए ऐंठे थे। इंदौर लोकायुक्त ने फरियादी अनाज व्यापारी की शिकायत पर प्लान बनाकर कार्रवाई की है। लोकायुक्त ने मंडी ASI समेत तीन लोगों के खिलाफ केस दर्ज किया है।

इंदौर लोकायुक्त ने मंडी ASI अरविंद मंडलोई, शुभम सोनी और सुनील वास्कले के खिलाफ भ्रष्टाचार निवारण अधिनियम की कई धाराओं में केस दर्ज कर लिया है। लोकायुक्त ने धारा 7, 13 (1) बी,120 (बी) आईपीसी के तहत प्रकरण दर्ज कर मामला विवेचना में लिया है। 

मंगलवार को इंदौर लोकायुक्त की टीम ने खंडवा में यह कार्रवाई की है। पंधाना कृषि उपज मंडी के ASI सुनिल वास्कले ने अनाज व्यापारी महेंद्र अग्रवाल से पैसे लेने के लिए बुलाया था।