नीमच में मुसलमान होने के शक में भंवरलाल की पीट पीट कर हत्या, भाजपा पूर्व पार्षद पति मुख्य आरोपी

पुलिस ने आरोपी दिनेश कुशवाह के खिलाफ आईपीसी की धारा 302 सहित अन्य धाराओं में मुकदमा दर्ज कर लिया है।

Updated: May 21, 2022, 03:52 PM IST

नीमच में मुसलमान होने के शक में भंवरलाल की पीट पीट कर हत्या, भाजपा पूर्व पार्षद पति मुख्य आरोपी
Image Courtesy : Deccan Herald

नीमच: नीमच में मॉब लिंचिंग जैसी हैवानियत की घटना सामने आई है और अब इस घटना का वीडियो वायरल हो गया है जिसमें भाजपा पूर्व पार्षद पति दिनेश कुशवाह एक बुजुर्ग व्यक्ति की केवल मुसलमान होने के शक में पिटाई करता दिख रहा है और बुजुर्ग से आधार कार्ड दिखाने की मांग कर रहा है।

नीमच के मनासा में सिरसी, तहसील जावरा, जिला रतलाम के निवासी 65 वर्षीय बुजुर्ग भंवर लाल जैन की मुसलमान होने के शक में पीट पीट कर हत्या कर दी गई, इस घटना में मुख्य आरोपी पूर्व पार्षद भाजपा नेत्री का पति दिनेश कुशवाह को बनाया गया है और आईपीसी की धारा 302 सहित अन्य धाराओं के तहत मुकदमा दर्ज कर लिया गया है।

मृतक के बड़े भाई राजेश जैन ने बताया कि मृतक भंवर लाल जैन बचपन से ही मंदबुद्धि थे, 15 मई को पूरे परिवार के साथ चित्तौड़गढ़ राजस्थान देवता पूजने के लिए गए थे. 16 मई को देर शाम 5 बजे के करीब वे लापता हो गए थे, जिनकी गुमशुदगी का मामला चित्तौड़गढ़ थाने में भी दर्ज करवाया गया है।

यह भी पढ़ें...चारा घोटाला स्वयं लालू जी ने सीबीआई को सौंपा था, बेमतलब उन्हें परेशान किया जा रहा है: दिग्विजय सिंह

थाना प्रभारी के.एल. दांगी ने बताया कि "एक वीडियो वायरल हो रहा है, इस वीडियो में जो शख्स पिटाई करते दिख रहा है उसकी पहचान की कोशिश की जा रही थी, वीडियो में जो शख्स बुजुर्ग को मार रहा है वो दिनेश कुशवाहा की तरह दिख रहा था. शुरुआती जांच के आधार पर दिनेश के खिलाफ FIR दर्ज कर ली गई है, मृतक भंवरलाल के परिजन को शव सौंप दिया गया है. मामला भी दर्ज है, जल्द इस मामले में कार्रवाई होगी"

इस घटना पर पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह की प्रतिक्रिया आई है, उन्होंने ट्वीट किया कि मुझे जानकारी मिली है कि भाजपा के दिनेश कुशवाह के विरुध्द धारा ३०२ के अंतर्गत जुर्म क़ायम किया गया है, देखते हैं गिरफ़्तारी होती है या नहीं।

 

प्रश्न इस बात का है कि क्या राज्य सरकार पूर्व पार्षद के घर पर बुलडोजर चलाएगी क्योंकि मध्यप्रदेश में सांप्रदायिक तनाव और आदिवासियों पर अत्याचार की घटनाएं लगातार बढ़ती जा रही है, कुछ दिनों पहले सिवनी में बजरंग दल के लोगों ने गौ हत्या के शक में दो आदिवासी युवकों की पीट पीट कर हत्या कर दी थी, जिसका आदिवासी संगठनों ने भारी विरोध किया था।

मध्यप्रदेश सरकार ने जबरन धर्म परिवर्तन को रोकने के लिए कानून बनाया, राज्यसरकार को भीड़ द्वारा हत्या को रोकने के लिए एंटी मॉब लिंचिंग कानून बनाना चाहिए जैसा कि झारखंड सरकार ने बनाया। भारत एक लोकतांत्रिक देश है, देश संविधान से चलता है और भारतीय संविधान सबको समानता का अधिकार देता है ऐसे में किसी व्यक्ति की केवल मुसलमान होने के शक में हत्या कर देना इससे शर्मनाक कुछ नही हो सकता, आज देश किस दिशा में जा रहा हैं ये एक नागरिक के रूप में सोचने की बात है।