Corona Impact in Bhopal : Lockdown के पहले बाज़ार में भीड़

PC Sharma : जनप्रतिनिधियों और धर्म गुरुओं से चर्चा किए बिना लिया गया फ़ैसला

Publish: Jul-23, 2020, 07:54 PM IST

Corona Impact in Bhopal : Lockdown के पहले बाज़ार में भीड़
photo courtesy : Bhaskar

भोपाल। राजधानी भोपाल में कोरोना के बढ़ते मामलों को देखते हुए 24 जुलाई रात 8 बजे से 10 दिन का लॉकडाउन लगाया जा रहा है। 10 कव बंद को देखते हुए ख़रीदी के लिए 2 दिन का समय है मगर दुकानों पर लोगों की भीड़ है। अफरा तफरी के बीच मध्यप्रदेश के पूर्व जनसंपर्क मंत्री व कांग्रेस नेता पीसी शर्मा ने lockdown के लिए शिवराज सरकार को  खरी खोटी सुनाई है। बकरीद और रक्षाबंधन पर लगाए जा रहे लॉकडाउन को लेकर उन्होंने सरकार से धर्म संस्थाओं से बातकर समन्वय स्थापित करने की मांग की है।

Lockdown की जानकारी मिलते ही बुधवार शाम और फिर गुरुवार की सुबह से ही बाजार और किराना दुकानों में भीड़ जमा हो गई है। राशन और जरूरत का सामान खरीदने के लिए हर जगह क़तार है तो जिन 25 क्षेत्रों में lockdown लागू किया जा चुका है वहाँ सख़्ती से बंद लागू है।

 

Congress: BJP के कारण फैल रहा कोरोना 

कांग्रेस नेता पीसी शर्मा ने प्रदेश की स्थिति चिंताजनक बताते हुए शिवराज सरकार पर बुरी तरह से फेल होने का आरोप लगाया है। उन्होंने मध्यप्रदेश बीजेपी पर निशाना साधते हुए कहा है कि उनकी रैलियों से कोरोना वायरस संक्रमण फैल रहा है। उन्होंने सहकारिता मंत्री अरविंद भदौरिया की शीघ्र स्वस्थ्य होने की कामना करते हुए कहा उनके संपर्क में आए सभी नेताओं की टेस्टिंग कराने की मांग की है। 

ईद और राखी के लिए बने विस्तृत गाइडलाइंस जारी करें 

पूर्व मंत्री ने आने वाले त्यौहार बकरीद और रक्षाबंधन को लेकर विस्तृत दिशा-निर्देश बनाने की मांग की है। उन्होंने कहा, 'त्योहारों के बीच राजधानी भोपाल में लॉकडाउन लगाया जा रहा है। इसके खिलाफ आरिफ मसूद या कोई अन्य कांग्रेस नेता मैदान में उतरेंगे तो हम उसके साथ रहेंगे।' बता दें कि लॉकडाउन को लेकर भोपाल मध्य क्षेत्र से कांग्रेस विधायक आरिफ मसूद ने वीडियो जारी कर इस फैसले का विरोध किया है। उन्होंने कहा है कि सरकार कोरोना का डर दिखाकर कुर्बानी के त्यौहार में बाधा उत्पन्न करना चाहती है जिसके खिलाफ लोगों को एकजुटता के साथ विरोध करना चाहिए। 

कोरोना का डर दिखा कर बे वजहा त्योहारों पर बिना जन प्रतिनिधि यो से चर्चा किये लॉकडाऊन लगाना उचित नही pic.twitter.com/7jHcvUSUdl

— Arif Masood Official (@arifmasoodbpl) July 22, 2020

बीजेपी को हटाने होंगे चार मंत्री

शर्मा ने कहा है कि शिवराज सरकार ने अधिक लोगों को मंत्रिमंडल में शामिल किया है जो पूरी तरह से असंवैधानिक है। सुप्रीम कोर्ट ने मामले पर जवाब मांगा है। शिवराज सरकार को निश्चित ही चार मंत्रियों को हटाना होगा। इस दौरान शर्मा ने आरएसएस पर निशाना साधते हुए कहा कि उनके मीटिंग का कोई एजेंडा नहीं होता है और न हीं वे बैठक में कांग्रेस से बागी हुए नेताओं को बुलाते हैं। 

ये सेवाएँ रहेंगी उपलब्ध 
24 जुलाई शुक्रवार रात 8 बजे से लागू लॉकडाउन तीन अगस्त तक प्रभावी रहेगा। लॉकडाउन के दौरान दवा, सब्जी, दूध, इंडस्ट्री, सरकारी राशन की दुकान खुली रहेंगी। लोग भी जरूरत पड़ने पर ही घर से निकल सकेंगे। भोपाल के बाहर और भोपाल में आने के लिए ई-पास बनवाना जरूरी होगा। पेट्रोल पंप और डाक सेवाएं चलती रहेंगी। ऑनलाइन बुकिंग पर टैक्सी सुविधा मिल सकेगी।