ऑक्सीजन टैंकर को अपने इवेंट के लिए रोकने वाले नेता इंदौर शहर से मांगे माफी, कांग्रेस प्रवक्ता नरेंद्र सलूजा का वार

शनिवार देर रात ऑक्सीजन का एक टैंकर गुजरात के जामनगर से इंदौर पहुंचा था, लेकिन अस्पताल में ऑक्सीजन को पहुंचाने के बजाय भाजपा के नेताओं ने अपने प्रचार के लिए ऑक्सीजन के टैंकर की पूजा अर्चना करना ज़्यादा मुनासिब समझा

Updated: Apr 18, 2021, 07:30 PM IST

ऑक्सीजन टैंकर को अपने इवेंट के लिए रोकने वाले नेता इंदौर शहर से मांगे माफी, कांग्रेस प्रवक्ता नरेंद्र सलूजा का वार

इंदौर/भोपाल। इंदौर में शनिवार देर रात पहुंचे ऑक्सीजन के टैंकर को अपने प्रचार के लिए इस्तेमाल करने वाले भाजपा के नेताओं पर कांग्रेस प्रवक्ता नरेंद्र सलूजा ने जमकर हमला बोला है। नरेंद्र सलूजा ने कहा है कि भाजपा नेताओं को अपने इस कृत्य के लिए पूरे इंदौर शहर से माफी मांगनी चाहिए। सलूजा ने इसे अपराधिक कृत्य करार दिया है। 

नरेंद्र सलूजा ने कहा है कि जिस तरह से जीवन रक्षक संजीवनी ऑक्सीजन के टैंकर को धार रोड चौराहे पर रोक कर, भाजपा नेताओं ने जिस प्रकार फोटो बाजी -स्वागत -सत्कार, उसे गुब्बारे से सजाने, नारियल फोड़ने के इवेंट करने में जो समय व्यर्थ किया, उनका यह कृत्य बेहद ही शर्मनाक है और ऐसा कृत्य कर भाजपा नेताओं ने इंदौर को देश भर में शर्मशार भी किया है। 

सलूजा ने कहा एक तरफ पूरे मध्यप्रदेश में अस्पतालों में ऑक्सीजन का भारी संकट व्याप्त है ,प्रदेश के भोपाल , जबलपुर ,सागर, खरगोन ,उज्जैन ,खंडवा ,शहडोल में ऑक्सीजन की कमी से कई जाने ,जाने की खबरें सामने आ चुकी है और इंदौर के गुर्जर हॉस्पिटल में भी 5 लोगों की ऑक्सिजन की कमी से मौत की खबर भी पिछले दिनो ही सामने आई थी।

वहीं इंदौर में तकरीबन सभी अस्पताल प्रतिदिन ऑक्सीजन की कमी से जूझ रहे हैं और घंटो ऑक्सीजन का इंतजार करते रहते हैं ,ऑक्सिजन की कमी के कारण वे अपने यहां मरीजों को भर्ती करने तक से मना कर रहे हैं।ऑक्सीजन पर टिके हुए मरीजों के लिए बगैर ऑक्सीजन के एक-एक मिनट गुजारना बेहद संकट की बात है और ऐसे में ऑक्सीजन का इंतजार कर रहे शहर के अस्पतालों के लिए आये ऑक्सिजन से भरे टैंकर को चौराहे पर रोक कर, उसके करीब 45 मिनट स्वागत-सत्कार-फोटो बाजी में व्यर्थ कर भाजपा नेताओं ने अपनी असंवेदनशीलता का परिचय दिया है। 

सलूजा ने कहा कि आपदा के इस संकटकाल में भी भाजपा नेता अवसर ढूंढ रहे हैं, उन्हें जश्न, स्वागत, उत्सव व श्रेय लेने की पड़ी है।यदि वह इस ऑक्सीजन टैंकर का श्रेय ले रहे हैं तो उन्हें ऑक्सिजन की कमी से हो रही हुई मौतों की जवाबदारी भी लेना चाहिए, यश ले रहे है तो अपयश भी ले।उन्हें उन परिवारों की सुध भी लेना चाहिए जिन्होंने ऑक्सीजन की कमी से अपनों को खोया है। 

यह भी पढ़ें : बीजेपी का इवेंट प्रेम: ऑक्सीजन टैंकर के इंदौर पहुंचते ही प्रचार करने लगे बीजेपी के नेता, लोगों की ज़िंदगियों पर दे दी अपने प्रचार को तरजीह

सलूजा ने मांग की कि इस बात की जांच भी होना चाहिए कि जिस अवधि में भाजपा नेताओं ने ऑक्सीजन के टैंकर को चौराहे पर रोके रखा ,उस अवधि में इंदौर में ऑक्सीजन की कमी से किसी मरीज की मौत तो नहीं हुई या कोई मरीज ऑक्सीजन के अभाव में अस्पताल में भर्ती होने के लिए तड़पता व भटकता तो नहीं रहा ?

यह भी पढ़ें : विश्वास सारंग का दावा, ऑक्सीजन की कमी के कारण नहीं हुई शहडोल मेडिकल कॉलेज में भर्ती मरीजों की मौत

सलूजा ने कहा के संकट के इस दौर में ऑक्सिजन के टैंकर को मध्यप्रदेश सरकार ने एंबुलेंस का दर्जा देकर अत्यावश्यक सेवाओ में शामिल किया है , भाजपा नेताओं के इस गैर जिम्मेदाराना ,असंवेदनशील रवैये के लिए उन पर आपराधिक प्रकरण दर्ज होना चाहिए व भाजपा नेताओं को शहर वासियों से इस अशोभनीय कृत्य के लिए तत्काल माफी भी मांगना चाहिए।

दरअसल शनिवार देर रात ऑक्सीजन का एक टैंकर गुजरात के जामनगर से इंदौर पहुंचा था, लेकिन अस्पताल में ऑक्सीजन को पहुंचाने के बजाय भाजपा के नेताओं ने अपने प्रचार के लिए ऑक्सीजन के टैंकर की पूजा अर्चना करना ज़्यादा मुनासिब समझा।