PM आवास योजना की राशि सीधे खातों में नहीं आती तो हम लोग इसमें से आधे रुपए पचा जाते: BJP MLA

सिरोंज विधायक ने कहा कि ये तो अच्छा है कि प्रधानमंत्री आवास की राशि सीधे खातों में आ रही है, नहीं तो हम जैसे लोग ही इसमें से आधे रुपए पचा जाते, अधिकारी और कर्मचारी हजार-पांच सौ रुपए भी नहीं छोड़ रहे, कोई पांच सौ रुपए नहीं दे रहा तो कहते हैं ढाई सौ ही दे दो

Updated: Jun 02, 2022, 04:01 PM IST

PM आवास योजना की राशि सीधे खातों में नहीं आती तो हम लोग इसमें से आधे रुपए पचा जाते: BJP MLA

भोपाल। भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा तीन दिवसीय मध्य प्रदेश दौरे पर है। बुधवार को भोपाल में जेपी नड्डा ने कांग्रेस पर निशाना साधते हुए कहा था कि कांग्रेस भ्रष्टाचार का प्रतीक है। इसी बीच सिरोंज से भाजपा विधायक उमाकांत शर्मा का एक बयान सामने आया है जिसमें वे कह रहे हैं कि "अफसर 500 रुपए तक नहीं छोड़ते"। शर्मा के इस बयान पर बीजेपी के ही वरिष्ठ नेता व पूर्व राज्यपाल कप्तान सिंह सोलंकी ने चिंता व्यक्त की। वहीं कांग्रेस ने भाजपा नेताओं को आईने में चेहरा देखने की नसीहत दी है।

दरअसल, भाजपा विधायक उमाकांत शर्मा ने बुधवार को एक कार्यक्रम के दौरान कहा कि मैंने 20 दिन पहले नगर पालिका को नालों की सफाई करवाने के लिए कहा था। इसके बाद भी प्री मानसून की बारिश में हालात बिगड़ गए। भाजपा विधायक ने आगे कहा कि, 'ये तो बहुत अच्छा है कि प्रधानमंत्री आवास की राशि सीधे खातों में आ रही है, नहीं तो हम जैसे लोग ही इसमें से आधे रुपए पचा जाते। अधिकारी और कर्मचारी हजार-पांच सौ रुपए भी नहीं छोड़ रहे। कोई पांच सौ रुपए नहीं दे रहा तो कहते हैं ढाई सौ ही दे दो।'

यह भी पढ़ें: नरोत्तम मिश्रा को BJP दफ्तर के गेट पर रोका, कांग्रेस बोली- इतनी बदसलूकी किसके इशारे पर

शर्मा के बयान पर पूर्व राज्यपाल कप्तान सिंह सोलंकी ने चिंता व्यक्त करते हुए ट्वीट किया कि, 'मध्य प्रदेश के भाजपा विधायक उमाकांत शर्मा का कथन अफसर 500 रुपए तक नहीं छोड़ते, ध्यान देने का विषय है क्योंकि इससे सुशासन को पतीला लगाया जा रहा है।'

मामले पर कांग्रेस के मीडिया विभाग के अध्यक्ष केके मिश्रा ने तीखी प्रतिक्रिया दी है। उन्होंने ट्वीट करते हुए लिखा कि, 'भाजपा अध्यक्ष जेपी नड्डा सोमवार को भोपाल में ईमानदारी की गंगा पर व्याख्यान दे रहे थे, बीजेपी के ही विधायक ने ही राज्य में व्याप्त भ्रष्टाचार की परतें उखाड़ दी! उन्हें बल दिया वरिष्ठ नेता, पूर्व राज्यपाल कप्तान सिंह सोलंकी ने ? भाजपा नेताओं को भ्रष्टाचार के खिलाफ बोलने से पहले शीशे में चेहरा देखना चाहिए।

हाल ही में कप्तान सिंह सोलंकी ने ट्वीट कर तंज कसा था कि नाटक के अंदर कई पात्र होते वो अपना किरदार निभाते हैं, लेकिन उसमें एक पात्र ऐसा भी होता हैं, जो जोकर का काम करता है, सबको हंसता हैं! और नाटक उसके बिना पूरा नहीं होता।

कप्तान सिंह सोलंकी का ये तंज मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान के भोपाल में ठेला लेकर खिलौने इकट्ठे करने के कार्यक्रम से जोड़ कर देखा गया था।