मध्य प्रदेश में कोरोना की तीसरी लहर आ गई है, हमें सतर्क रहने की जरूरत: CM शिवराज 

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने स्वीकारा है कि प्रदेश में कोरोना की तीसरी लहर आ गई है, सीएम ने प्रदेशवासियों से सतर्क रहने और समय समय पर हाथ धोते रहने की अपील की है

Updated: Jan 02, 2022, 02:51 PM IST

मध्य प्रदेश में कोरोना की तीसरी लहर आ गई है, हमें सतर्क रहने की जरूरत: CM शिवराज 

भोपाल। मध्य प्रदेश में कोरोना ने अपनी रफ्तार पकड़ ली है। लगातार दूसरे दिन प्रदेश में कोरोना के 100 से अधिक मामले दर्ज किए गए हैं। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने स्वीकारा है कि प्रदेश में कोरोना की तीसरी लहर आ चुकी है। सीएम चौहान ने लोगों से सतर्क रहने व समय समय पर हाथ धोते रहने की अपील की है।

मुख्यमंत्री ने कहा कि, 'कोरोना की तीसरी लहर आ गई है। इसका मुकाबला जनसहयोग से करना है। सभी आवश्यक इंतजाम किए गए हैं, लेकिन बेहद सजग और सतर्क रहने की जरूरत है। मुझे इस बात का संतोष है कि वैक्सीन की प्रथम डोज 94% से अधिक और सेकेंड डोज 91% से अधिक लोगों का हो गया है। हमें वैक्सीनेशन के शत-प्रतिशत लक्ष्य को प्राप्त करना है।'

यह भी पढ़ें: देश में कोरोना का कहर, पिछले 24 घंटे में 27 हजार से ज्यादा नए केस, कल की तुलना में 21 फीसदी मामले बढ़े

इससे पहले सीएम शिवराज ने शनिवार को एक कार्यक्रम के दौरान कहा था कि, 'अस्पतालों में तैयारियों की व्यवस्था का जायजा लगातार जारी हैं। दवाएं, उपकरण, ऑक्सीजन सहित विभिन्न आवश्यक संसाधनों पर हमारी नजर है। मैंने निर्देश दिए हैं कि 1 महीने की आवश्यकता के अनुरूप दवाइयां और उपकरण आदि हमारे पास होना चाहिए।'

बता दें कि प्रदेश में बीते 24 घंटे में कोरोना के 168 मामले दर्ज किए गए हैं। अकेले इंदौर में शनिवार को कोरोना के 80 मरीज मिले हैं। जबकि ग्वालियर में 6 और उज्जैन खंडवा में एक एक मरीज मिले हैं। भोपाल में शनिवार को कोरोना के 59 मरीज मिले। इससे पहले शुक्रवार को कोरोना के 27 मिले थे। जबकि शुक्रवार को भोपाल में कोरोना के 16 मामले सामने आए थे। भोपाल में कोरोना के एक्टिव मरीजों की संख्या 106 हो गई है।

यह भी पढ़ें: MP में लगातार दूसरे दिन कोरोना के मामले 100 पार, इंदौर में एक दिन में मिले 80 मरीज

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक भोपाल में विदेशों से आने वाले 18 लोगों में कोरोना संक्रमण की पुष्टि हो चुकी है। लेकिन अब तक एक भी मरीज की जीनोम सिक्वेंसिंग रिपोर्ट नहीं आई है। जिस वजह से राजधानी में कोरोना संक्रमण के फैलाव की आशंका और भी बढ़ गई है। प्रदेश भर में अब तक दस मरीजों में ओमिक्रोन संक्रमण की पुष्टि हुई है। मध्य प्रदेश में 6 महीने बाद एक दिन में सौ से अधिक मामले सामने आए हैं। इससे पहले 16 जून को प्रदेश भर में कोरोना संक्रमण के 110 मामले सामने आए थे।