MP By Elections: कांग्रेस नेता पीसी शर्मा ने कहा, इस महाभारत के कृष्ण हैं कमलनाथ, जरूरत पड़ी तो चलाएंगे सुदर्शन चक्र

MP Congress: कांग्रेस नेता पीसी शर्मा ने कहा हार के डर से बौखलाई है बीजेपी, इसीलिए अनूपपुर में कमलनाथ के काफिले पर कराया हमला

Updated: Oct-08, 2020, 07:31 PM IST

MP By Elections: कांग्रेस नेता पीसी शर्मा ने कहा, इस महाभारत के कृष्ण हैं कमलनाथ, जरूरत पड़ी तो चलाएंगे सुदर्शन चक्र
Photo Courtesy: Punjab Kesri

भोपाल। मध्य प्रदेश में चुनावी सरगर्मियां जोरों पर हैं। बीजेपी और कांग्रेस एक दूसरे के खिलाफ जमकर बयान बाजी कर रही हैं। पूर्व मंत्री पीसी शर्मा ने कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष कमलनाथ को इस चुनावी महासंग्राम में कृष्ण की उपमा दी है। उन्होंने कमलनाथ को महाभारत का कृष्ण बताया है। कांग्रेस नेता का कहना है कि कमलनाथ इस महाभारत के कृष्ण हैं, अगर जरूरत पड़ी तो सुदर्शन चक्र भी चलाएंगे।

और पढ़ें: MP By Election: शिवराज को 'नारियल फो़डू सीएम' बताने का नया अंदाज़, कांग्रेस ने इंदौर में लगाई नारियल की दुकान

पीसी शर्मा ने कहा की अनूपपुर में कमलनाथ के काफिले पर हमला करवा कर बीजेपी उन्हें डराने की कोशिश कर रही है। लेकिन कांग्रेस इससे डरने वाली नहीं है। बीजेपी इस उपचुनाव में हारने वाली है। अपनी हार से डर से  बीजेपी में बौखलाहट है।

और पढ़ें: MP ByElections 2020: अनूपपुर में कमल नाथ की गाड़ी पर पथराव, भारतीय जनता युवा मोर्चा पर आरोप

पीसी शर्मा ने कमलनाथ के लिए SPG सुरक्षा की मांग की है। उनका कहना है कि कमलनाथ मध्यप्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री और अब विधान सभा के नेता प्रतिपक्ष हैं। ऐसे में उन्हें SPG सुरक्षा मिलनी चाहिए।

और पढ़ें: MP By Elections: अनूपपुर में कमलनाथ ने कहा यह उपचुनाव बिके हुए लोकतंत्र के बाद का है, नाेट की सरकार बदलने की है दरकार

बीजेपी पर निशाना साधते हुए कांग्रेस नेता ने कहा की बीजेपी कांग्रेस को जितना भी डराने की कोशिश कर ले, लेकिन हम डरने वाले नहीं हैं। उन्होंने दावा किया है कि इस चुनावी समर में बीजेपी को मुंह की खानी पड़ेगी। प्रदेश की जनता बिकाऊ नेताओं को सबक जरूर सिखाएंगे। आपको बता दें कि बुधवार को अनूपपुर में भारतीय जनता पार्टी के युवा संस्थान भारतीय जनता युवा मोर्चा के कार्यकर्ताओं ने कमल नाथ के काफिले पर जमकर पथराव किया। इसके साथ ही भाजूमो के कार्यकर्ताओं ने कमल नाथ को काले झंडे भी दिखाए थे।