अवैध निर्माण पर चली निगम की जेसीबी, सपना बार समेत 7 को किया जमींदोज

इंदौर के सपना बार को निगम ने गिरा दिया है, इस बार में जहरीली शराब परोसने से 6 लोगों की मौत हुई थी, नगर निगम ने मंदिर की जमीन पर अवैध कालोनी काटने वालों पर भी लिया एक्शन

Updated: Sep 27, 2021, 02:57 PM IST

अवैध निर्माण पर चली निगम की जेसीबी, सपना बार समेत 7 को किया जमींदोज
Photo Courtesy: Bhaskar

इंदौर। नगर निगम और जिला प्रशासन ने भू माफिया के खिलाफ कार्रवाई की। इसी कड़ी में इंदौर के विभिन्न इलाकों में अवैध निर्माण पर जेसीबी चलाई गई। जहरीली शराब मामले में सुर्खियों में रहे सपना बार की दो मंजिला इमारत जमींदोज कर दी गई है। सपना बार 1150 स्कवेयर फीट पर बना हुआ था। जिसे सोमवार सुबह नगर निगम ने ढहा दिया। मरीमाता चौराहा स्थित इस बार में जहरीली शराब पीने से आधा दर्जन लोगों की मौत हो गई थी। जिसके बाद से प्रशासन ने इसे सील कर दिया था।

सपना बार के ओनर विकास बरेड़िया के खिलाफ राष्ट्रीय सुरक्षा कानून लगाकर जेल भेज दिया गया था। पुलिका का कहना है कि भूमाफिया की मदद से सपना बार का निर्माण अवैध तरीके से किया गया था। नगर निगम को इसमें कई तरह की अनियमितता मिली थी। इस कार्रवाई से इलाके में हड़कंप मच गया है। पुलिस, प्रशासन और नगर निगम संयुक्त रूप से भू-माफिया पर कड़ी कार्रवाई में जुटा है। पिपल्याराव इलाका स्थित श्री गुटकेश्वर महादेव मंदिर की जमीन पर बने 7 निर्माणों को गिरा दिया गया। मंदिर की जमीन पर कॉलोनाइजर ने कब्जा कर रखा था। इस जमीन की कीमत करीब 5 करोड़ रुपए बताई जा रही है।

इस गणेशधाम कालोनी के कॉलोनाइजर्स पर आरोप है कि इन्होंने बिना नक्शा पास कराए औऱ बिना परमीशन के निर्माण कार्य किया। आरोपी कॉलोनाइजर्स ने मंदिर से लगी करोड़ों की 1.2 हेक्टेयर जमीन में से 30 हजार वर्गफीट जमीन पर भी प्लाट काटकर बेचे। दरअसल बार मालिक औऱ गणेशधाम कालोनाइजर्स के तार भी जुड़े हुए हैं। सपना बार का मालिक विकास बरेड़िया के साथ मिलकर हेमू और चिंटू नाम के दो लोगों ने शिवकंठ कॉलोनी में निर्माण किया था। इस इलाके में गुटकेश्वर महादेव मंदिर की जमीन पर अवैध प्लॉट काटकर बेचे जाने के मामले में शिकायत पर कारवाई की। यहां से 7 निर्माणों को हटाया गया है।