देवास में भीड़ ने हिंदू लड़के को मुस्लिम समझ कर बेरहमी से पीटा, वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल

पुलिस भीड़ को समझाती रही ये लड़का हिंदू है, लेकिन भीड़ ने पुलिस की बात तक को सुनना ज़रूरी नहीं समझा और नाबालिग लड़के को पीटते रहे

Updated: Sep 06, 2021, 06:40 PM IST

देवास में भीड़ ने हिंदू लड़के को मुस्लिम समझ कर बेरहमी से पीटा, वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल

देवास। मध्य प्रदेश में मॉब लिंचिंग की घटनाओं से बीजेपी नेताओं के इनकार के बीच देवास का एक वीडियो सोशल मीडिया पर जमकर वायरल हो रहा है। इस वीडियो में भीड़ एक नाबालिग लड़के को मुस्लिम समझकर बेरहमी से पीटते हुई दिखाई दे रही है। जबकि हकीकत यह है कि भीड़ जिस युवक को बेरहमी से पीट रही है, वह पीड़ित लड़का उन दंगाईयों के मज़हब से ताल्लुक रखता है।  

हैरानी भरी बात यह है कि भीड़ ने पुलिस की मौजूदगी में युवक की बेरहमी से पिटाई की। हालांकि पुलिस लगातार भीड़ को समझाती रही कि यह लड़का हिंदू है, लेकिन भीड़ की शक्ल में मौजूद दंगाइयों ने पुलिस की एक नहीं मानी। लाख मशक्कत के बाद पुलिस पीड़ित लड़के को दंगाइयों के चंगुल से बचाने में सफल हो पाई।  

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक यह घटना चार दिन पहले की है। देवास पुलिस को यह सूचना मिली थी कि उत्तर प्रदेश के बलिया से एक 16 वर्षीय नाबालिग लड़का अपनी दोस्त(नाबालिग) के साथ घर छोड़कर भाग गया है। सूचना मिलने पर पुलिस ने भौरासा टोल टैक्स पर चेकिंग शुरू कर दी। चेकिंग के दौरान यूपी से अहमदाबाद जाने वाली बस में दोनों नाबालिग मिल गए। 

पुलिस दोनों को अपने साथ लेकर जा ही रही थी कि इतने में दोनों नाबालिगों का पीछा करते आ रहे कुछ लोग वहां आ धमके। वे लव जिहाद के शक में दोनों का पीछा कर रहे थे। जल्द ही इन लोगों ने हिंसक रूप अख्तियार किया और नाबालिग लड़के को मुस्लिम समझकर बेरहमी से पीटने लगे।आखिरकार पुलिस ने जैसे-तैसे लड़के को दंगाइयों से छुड़ाया और दोनों नाबालिगों को अपने साथ ले गई। लड़के को पुलिस अपने साथ औद्योगिक थाना क्षेत्र ले गई। वहीं लड़की को महिला पुलिस अपने साथ ले गई। एक पुलिस अधिकारी ने हिंदी न्यूज़ वेब पोर्टल को नाम न छापने की शर्त पर बताया कि अगर समय रहते पुलिस ने पीड़ित को दंगाइयों के चंगुल से नहीं छुड़ाया होता तो वे युवक की जान भी ले सकते थे। 

इसके बाद दोनों के परिजन यूपी पुलिस के साथ पहुंचे और नाबालिगों को अपने साथ यूपी ले गए। इस बीच देवास पुलिस ने युवक को बेरहमी से पीटने वाले 15 अज्ञात लोगों के खिलाफ मुकदमा तो दर्ज कर लिया है लेकिन अब तक इस मामले में कोई गिरफ्तारी नहीं हुई है।