जिसमें ताकत हो मेरे घुटने तोड़े, घर में घुसकर रामधुन करूंगा, दिग्विजय सिंह ने BJP MLA को दी खुली चुनौती

रामेश्वर शर्मा के हिंसक बयान पर भड़के दिग्विजय सिंह, बोले- आ रहा हूं, जगह और तारीख भी बताई, बीजेपी एमएलए ने दी थी घुटने तोड़ने की धमकी

Updated: Nov 21, 2021, 12:30 AM IST

जिसमें ताकत हो मेरे घुटने तोड़े, घर में घुसकर रामधुन करूंगा, दिग्विजय सिंह ने BJP MLA को दी खुली चुनौती

भोपाल। बीजेपी के बड़बोले विधायक रामेश्वर शर्मा को कांग्रेस के दिग्गज नेता दिग्विजय सिंह के घुटने तोड़ने की धमकी देना भारी पड़ गया है। अब दिग्विजय सिंह ने बीजेपी एमएलए को खुली चुनौती दे डाली है। दिग्विजय सिंह ने कहा है कि 24 नवंबर को मैं आ रहा हूं, और रामेश्वर शर्मा के घर में 1 घंटे तक रामधुन करूंगा। जिसमें ताकत हो वो मेरे घुटने तोड़ दे।

दिग्विजय सिंह ने ट्वीट किया, 'मैं कॉंग्रेसी हूँ जिसमें ताक़त हो तो मेरे घुटने तोड़ दे। मैं गांधीवादी हूँ। हिंसा का जवाब अहिंसा से दूँगा। 24 नवंबर को मैं महात्मा गॉंधी की मूर्ति (वाले स्थल) से रामेश्वर शर्मा के घर जाउंगा। उनके घर जा कर प्रभु से उन्हें सदबुद्धि देने के लिए एक घंटे तक रामधुन करूँगा।' 

दरअसल, बीजेपी विधायक रामेश्वर शर्मा का एक वीडियो सामने आया है जिसमें वे कांग्रेस के खिलाफ हिंसक और भड़काऊ बातें कर रहे हैं। कलखेड़ा गांव में आयोजित एक कार्यक्रम को संबोधित करते हुए शर्मा कहते हैं कि, 'कांग्रेस का कोई भी आदमी इधर आए तो उसके घुटने तोड़ दो। दलालों के लिए नो एंट्री। यहां नेतागिरी नहीं करना। दिग्विजय सिंह आया था लेकिन कुछ करके नहीं गया।'

यह भी पढ़ें: हम 700 किसानों को बचा सकते थे, शहीदों के प्रति संवेदना व्यक्त करें, वरुण गांधी ने PM को लिखा पत्र

इस वीडियो के सामने आने के बाद कांग्रेस प्रवक्ता नरेंद्र सलुजा कहा था कि जल्द ही इनके इलाज की जरूरत है। सलुजा ने वीडियो ट्वीट कर लिखा था कि, 'रामेश्वर शर्मा किस प्रकार लोगों को भड़का रहे है, ये कैसी इनकी भाषा है? पहले सिंधी समाज के बारे में, फिर राजपूत समाज के बारे में और अब कांग्रेस के बारे में। कितना अहंकार और सत्ता का नशा है? सलूजा के इस ट्वीट को रिट्वीट करते हुए ही पूर्व सीएम दिग्विजय सिंह ने चुनौती दी है। अमूमन दिग्विजय सिंह का इस तरह का गर्म तेवर कम ही देखा जाता है। ऐसे में माना जा रहा है कि सिंह की नाराजगी के कारण रामेश्वर शर्मा की मुश्किलें बढ़ना तय है।