ग्वालियर उपचुनाव 2020: कांग्रेस के सुनील शर्मा बोले, तोमर को विश्वासघात के लिए सबक सिखाएगी जनता

MP By Elections 2020: ग्वालियर विधानसभा सीट पर कांग्रेस के सुनील शर्मा  का मुकाबला दलबदलू उम्मीदवार प्रद्युम्न सिंह तोमर से है, तोमर ने पिछली बार कांग्रेस के टिकट पर चुनाव जीता था

Updated: Oct 27, 2020, 10:44 AM IST

ग्वालियर उपचुनाव 2020: कांग्रेस के सुनील शर्मा बोले, तोमर को विश्वासघात के लिए सबक सिखाएगी जनता
Photo Courtesy: Camera 24

ग्वालियर। ग्वालियर विधानसभा सीट से कांग्रेस के उम्मीदवार सुनील शर्मा ने अपने चुनाव क्षेत्र में घर-घर जाकर जनसंपर्क शुरू कर दिया है। इसी सिलसिले में वे वार्ड नंबर 4 के गली-मोहल्लों और कॉलोनियों में भी पहुंचे। आम मतदाताओं से बातचीत के दौरान उन्होंने कहा कि ग्वालियर की भोली भाली जनता विश्वासघात की वजह से खुद को छला हुआ महसूस कर रही है।

प्रद्युम्न सिंह तोमर पर निशाना साधते हुए उन्होंने कहा कि जिस व्यक्ति पर क्षेत्र की जनता ने भरोसा किया था, उसने निजी स्वार्थों की पूर्ति के लिए जनता के जनमत को ही नहीं बल्कि विश्वास को भाजपा के हाथों नीलाम कर दिया। इसका बदला इस उपचुनाव में जनता खुद लेगी और विश्वासघात करने वाले भाजपा उम्मीदवार को सबक सिखाएगी।

सुनील शर्मा ने वार्ड 33 के नौगजा रोड पर नुक्कड़ सभा को भी संबोधित किया। इसमें उन्होंने कहा कि वे अपने ग्वालियर विधानसभा क्षेत्र में भ्रष्टाचार और नशे के कारोबार को पूरी तरह बंद कराने के लिए काम करेंगे, ताकि, युवा और नई पीढ़ी के लोग सुरक्षित रह सकें। सुनील शर्मा ने लोगों को भरोसा दिलाया कि उनके हक के लिए चाहे उन्हें किसी से भी मुकाबला करना पड़े वे कभी पीछे नहीं हटेंगे।

ग्वालियर में चुनाव लड़ रहे कांग्रेस उम्मीदवार सुनील शर्मा और बीजेपी उम्मीदवार प्रद्युम्न सिंह तोमर दोनों ही कभी ज्योतिरादित्य सिंधिया के करीबी समझे जाते थे। पिछले चुनाव में सिंधिया के कहने पर ही तोमर को कांग्रेस से टिकट दिया गया था। वे चुनाव जीते भी लेकिन बाद में दल बदल करके बीजेपी में चले गए। जबकि सुनील शर्मा कांग्रेस की विचारधारा के साथ ही बने रहे। इस बार दोनों आमने सामने हैं, जिससे यह मुकाबला दिलचस्प हो गया है। खासकर कांग्रेस के टिकाऊ बनाम बिकाऊ के नारे ने इस संघर्ष को विचारधारा की लड़ाई बना दिया है।