MP बीजेपी में होर्डिंग्स घोटाला, फर्जी बिल लगाकर पार्टी पदाधिकारी ने डकारे पैसे

नगरीय ‎निकाय चुनावों के दौरान सभी नगर ‎निगम, सभी जनपद पंचायत एवं सभी ‎जिला पंचायतों में प्रचार-प्रसार के ‎लिए होर्डिंग्स लगाने थे

Updated: Sep 01, 2022, 11:13 AM IST

MP बीजेपी में होर्डिंग्स घोटाला, फर्जी बिल लगाकर पार्टी पदाधिकारी ने डकारे पैसे

भोपाल। मध्य प्रदेश भाजपा मुख्यालय में इन ‎दिनों हो‎र्डिंग्स घोटाला काफी चर्चा में है। इस घोटाले में पार्टी के एक बड़े पदाधिकारी की भूमिका बताई जा रही है।
मामला नगरीय निकाय और पंचायत चुनाव से जुड़ा हुआ है। 

रिपोर्ट्स के मुताबिक सभी नगर ‎निगम, सभी जनपद पंचायत एवं सभी ‎जिला पंचायतों में प्रचार-प्रसार के ‎लिए होर्डिंग्स लगाने थे। लेकिन, होर्डिंग्स सिर्फ 16 नगर निगम क्षेत्रों में ही लगाए गए। जबकि सभी जनपद पंचायत एवं सभी ‎जिला पंचायतों के नाम पर भी फर्जी ‎बिल लगाकर इसका भुगतान करा लिया गया।

सूत्रों के मुताबिक चुनावों के एक माह पहले से कुछ कंप‎नियों द्वारा प्रदेश के सभी नगर ‎निगम, सभी जनपद पंचायत एवं सभी ‎जिला पंचायतों में प्रचास-प्रसार के ‎लिए लगभग 1500 हो‎र्डिंग्स के कोटेशन मंगवाए गए थे। भाजपा के एक पदा‎धिका‎री ने अपनी चहेती कंपनी को हो‎र्डिंग्स लगाने का ठेका ‎दिया गया। इस कंपनी ने 5 से 6 ‎दिन में सभी नगर निगम क्षेत्रों में हो‎र्डिंग्स लगवा दिए। 

यह भी पढ़ें: प्रभु राम के प्रतिज्ञा स्थल पर सरकार ने दी खनन की मंजूरी, कांग्रेस बोली- राम के नाम पर रोटी सेंकने वालों का असली चेहरा उजागर

इसके बाद भाजपा के उस ‎विज्ञापन कंपनी ने प्रदेश पदा‎धिकारी के साथ ‎मिलकर भाजपा मुख्यालय से पूरे हो‎र्डिंग्स का ‎बिल प्रस्तुत कर ‎भुगतान ले ‎लिया। इतना ही नहीं जहां हो‎र्डिंग्स नहीं लगे थे वहां के फोटो भी ए‎डिट कर संगठन से भुगतान करा ‎लिया। अब पार्टी स्तर पर इस मामले की जांच की जा रही है।

प्रदेश बीजेपी के कोषाध्यक्ष ने इस बारे में पूछे जाने पर कहा कि, 'मैं फिलहाल बाहर हूं, कितना भुगतान हुआ है इसकी जानकारी मैं भोपाल पहुंचकर ही बता पाउँगा।'
बताया जा रहा है कि उक्त पदा‎धिकारी और ‎विज्ञापन एजेंसी की ‎मिलीभगत के कारण 2018 के ‎विधानसभा चुनावों में भी पार्टी की छवि खराब हुई थी।