भोपाल का बादशाह हूं, 6 मर्डर कर चुका... सातवां नंबर तेरा: पुलिस पकड़ी तो गिड़गिड़ाने लगा बाउंसर

बार बाउंसर ने चाकू लहराकर फाइनेंस कंपनी के कर्मचारियों और मैनेजर को धमकाते हुए कहा- मेरा नाम बादशाह है। तुम मुझे नहीं जानते, 6 मर्डर किए है। पुलिस ने खातिरदारी की तो कान पकड़कर बोला-बड़ी गलती हो गई छोड़ दो।

Updated: Oct 08, 2022, 09:53 AM IST

भोपाल का बादशाह हूं, 6 मर्डर कर चुका... सातवां नंबर तेरा: पुलिस पकड़ी तो गिड़गिड़ाने लगा बाउंसर
Photo Courtesy: Asianet

भोपाल। मध्य प्रदेश की राजधानी भोपाल से हैरान कर देने वाला मामला सामने आया है। जहां एक बार बाउंसर चाकू लहराकर फाइनेंस कंपनी में घुस गया। चाकू की नोक पर 50-60 कर्मचारियों को बंधक बना लिया। मैनेजर को चाकू दिखाकर बोला- 6 मर्डर कर चुका हूं। हालांकि, पुलिस ने उसकी सारी हेकड़ी निकाल दी। 

दरअसल, यह मामला भोपाल के हबीबगंज इलाके का है। शुक्रवार सुबह करीब 11 बजे जैकपॉट बीयर बॉर का बाउंसर शुभम उर्फ बादशाह ठाकुर नाम का युवक करतार बिल्डिंग में संचालित महिन्द्रा फाइनेंस के दफ्तर पहुंचा था। उसने चाकू की नोक पर धमकाते हुए कंपनी के करीब 50-60 कर्मचारियों को बंधक बना लिया। वहीं  फाइनेंस कंपनी के मैनेजर शीवेंद्र सिंह बघेल के सामने चाकू लहराते हुए धमकाते हुए कहा- बादशाह नाम है मेरा। तुम मुझे नहीं जानते, 6 मर्डर में आरोपी हूं। सातवां तेरा नंबर है।

जिस वक्त बदमाश फाइनेंस कंपनी के लोगों को धमका रहा था, उस दौरान उसका यह वीडियो  किसी ने बना लिया। इसके बाद उसे सोशल मीडिया पर शेयर कर दिया। वीडियो देखते ही तुरंत हबीबगंज थाने मौके पर पहुंची और आरोपी को पकड़ लिया। फिर पुलिस ने जो उसकी खातिरदारी की तो कान पकड़कर बोला-सर गलती हो गई मैं तो यूं हीं कह रहा था। मैंने किसी का मर्डर नहीं किया। मुझे माफ कर दो।

पुलिस आरोपी को हिरासत में लेकर थाने ले आई। यहां शुभम उर्फ बादशाह ठाकुर से पहले तो जमकर उठक-बैठक लगवाईं। इसके बाद  गिड़गिड़ाकर कहता रहा-सर छोड़ दीजिए, आज के बाद मैं ऐसा नहीं करूंगा। शुरूआती जांच में सामने आया है कि जिस बिल्डिंग में फाइनेंस कंपनी का दफ्तर है उसका मालिक ही बीयर बार चलाता है। कंपनी वाले अपने इस ऑफिस को दूसरी जगह शिफ्ट कर रहे थे। लेकिन बिल्डिंग मालिक उन्हें खाली करने से मना कर रहा था। बस इसीलिए उसने मैनेजर को धमकाने के लिए अपने  बाउंसर को भेजा था। पुलिस ने मालिक नवीन अरोरा समेत तीन लोगों के खिलाफ एफआइआर दर्ज किया है।