इंदौर में कोरोना गाइडलाइन का पालन नहीं करने पर 16 दुकानें सील, दो लोग हिरासत में लिए गए

इंदौर पुलिस और नगर निगम ने बाजार में कोरोना गाइडलाइन्स तोड़ने पर की कार्रवाई, दुकानों में बिना मास्क पहने भीड़ जमा करने और समय पर दुकानें बंद नहीं करने पर कार्रवाई

Updated: Mar 19, 2021, 09:35 AM IST

इंदौर में कोरोना गाइडलाइन का पालन नहीं करने पर 16 दुकानें सील, दो लोग हिरासत में लिए गए
Photo Courtesy: Bhaskar

इंदौर। बढ़ते कोरोना मरीजों के बीच इंदौर प्रशासन अब सख्ती पर उतर आय़ा है। शहर में कोरोना गाइड लाइन के उल्लंघन के आरोप में 20 लोगों के खिलाफ मामला दर्ज किया है। प्रशासन ने 16 दुकानों को बंद करवाकर वहां ताला जड़ दिया है। इन दुकानों में क्षमता से ज्यादा लोगों को प्रवेश देने, ग्राहक और विक्रेताओं के मास्क नहीं पहनने, सोशल डिस्टेंसिंग का पालन नहीं करने पर कार्रवाई की है। वहीं कुछ दुकानों को नाइट कर्फ्यू का पालन नहीं करने पर कार्रवाई की गई है।

इंदौर नगर निगम ने फेमस पाकीजा शो रूम को सील करने की कार्रवाई की। वहीं नगर निगम ने श्याम स्कूटर, जेल रोड स्थित स्पेयर पार्ट्स किंग, अपना मोबाइल, इंदौर बुक डिपो और एक कारखाने समेत कुल 16 व्यापारिक प्रतिष्ठानों पर ताला बंदी की है। इस दौरान नियमों के उल्लंघन करने पर दो लोगों को हिरासत में लिया गया है। एक चाय के ठेले पर भारी भीड़ की वजह से 200 रुपये की चालानी कार्रवाई की गई। पुलिस ने जेल रोड पर बिना मास्क दो दर्जन से ज्यादा लोगों के चालान काटे।

वहीं नाइट कर्फ्यू के पहले दिन बुधवार को भी शहर के कई इलाकों की दुकानें 10 बजे के बाद भी खुली रहीं थी उनपर भी निगम और पुलिस प्रशासन ने सख्ती की है। इसी आधार पर दुकान संचालकों पर कार्रवाई की गई है।

गौरतलब है कि देश के कई हिस्सों की तरह मध्यप्रदेश में भी कोरोना की रफ्तार तेज है। यहां बीते 24 घंटे में 917 नए कोरोना संक्रमित मरीज मिले हैं। सबसे ज्यादा 294 मरीज इंदौर में हैं। भोपाल में 184 नए मरीजों की पुष्टि हुई है। यही वजह है कि सरकार दोबारा सख्ती कर रही है ताकि संक्रमण की रफ्तार पर लगाम लगाई जा सके।