करोड़ों की प्रॉपर्टी, लग्जरी गाड़ियां, महल जैसा घर, EOW के छापे में धनकुबेर निकला जबलपुर RTO

मध्य प्रदेश के जबलपुर में आरटीओ संतोष पाल सिंह के घर पर ईओडब्लू ने छापेमारी की, अकूत संपत्ति देखकर अफसरों के होश उड़ गए। घर में RTO ने अपना निजी थियेटर तक बना रखा है।

Updated: Aug 18, 2022, 03:07 PM IST

करोड़ों की प्रॉपर्टी, लग्जरी गाड़ियां, महल जैसा घर, EOW के छापे में धनकुबेर निकला जबलपुर RTO

जबलपुर। मध्य प्रदेश के जबलपुर में ईओडब्ल्यू की टीम ने एक बड़े धन कुबेर का पर्दाफाश किया है। बुधवार की रात क्षेत्रीय परिवहन अधिकारी (RTO) संतोष पाल के खिलाफ आय से अधिक संपत्ति के मामले में छापेमारी की। शुरुआती छानबीन में सामने आए साक्ष्यों से पता चला है कि आरटीओ के पास आय से 650 गुना अधिक संपत्ति है। 

जानकारी के मुताबिक ईओडब्ल्यू की टीम द्वारा देर रात जबलपुर के शताब्दीपुरम कॉलोनी स्थित उसके आलीशान घर पर कार्रवाई की गई। संतोष पाल सिंह के घर पर जब छापा पड़ा तो सबकी आंखें खुली की खुली रह गई। आरटीओ संतोष पाल सिंह का घर किसी महल से कम नहीं नजर आ रहा है। इस दौरान टीम को उनके नाम पर आधा दर्जन आशियानों और फार्महाउस सहित लग्जरी कारें होने की जानकारी मिली है।

जांच में जबलपुर के आरटीओ के पास 16 लाख नगद मिले। ड्राइग रुम से लेकर बाथरुम तक, अधिकारी के यहां हर जगह काली कमाई का नजारा फैला पड़ा है। घर में साहब ने अपना निजी थियेटर तक बना रखा है। काली कमाई से थियेटर में लाल सीटें लगा रखी है। जांच के दौरान आरटीओ संतोष पाल सिंह के कई घर- कई कई गाड़ियां और दूसरे दस्तावेज मिले हैं। 10 हजार स्क्वायर फीट में फैले उनके मकान में लिफ्ट, बेशकीमती फर्नीचर, स्विंमिंग पूल, झूमर आदि लगे हुए हैं।

संतोष पाल की पत्नी रेखा पाल भी जबलपुर आरटीओ दफ्तर में ही क्लर्क हैं। छापेमारी के दौरान रेखा पाल घर में नहीं मिली। आशंका जताई जा रही है कि आटीओ ने अपनी जरूरी कागज व दस्तावेज देकर अपनी पत्नी को कही दूर भेज दिया है। ईओडब्ल्यू ने RTO संतोष पाल व उनकी क्लर्क पत्नी रेखा पाल के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया गया है।