107.56, ये मन की बात की फ्रिक्वेंसी नहीं,पेट्रोल के रेट हैं, तेल के बढ़ते दामों पर जयवर्धन सिंह ने कसा तंज

मध्यप्रदेश के कई हिस्सों में इस समय पेट्रोल की कीमतें 107 रुपए से अधिक है, राजधानी भोपाल सहित जबलपुर, इंदौर और ग्वालियर में पेट्रोल 107 रुपए से अधिक की कीमत पर मिल रहा है, सागर में भी पेट्रोल की कीमत 106 रुपए के पार है

Updated: Jun 29, 2021, 04:38 PM IST

107.56, ये मन की बात की फ्रिक्वेंसी नहीं,पेट्रोल के रेट हैं, तेल के बढ़ते दामों पर जयवर्धन सिंह ने कसा तंज

भोपाल। प्रदेश और देश भर में आसमान छूते तेल के दामों पर कांग्रेस नेता जयवर्धन सिंह ने मोदी सरकार पर निशाना साधा है। जयवर्धन सिंह ने पेट्रोल के दाम का ज़िक्र करते हुए कहा है कि यह मन की बात की फ्रिक्वेंसी नहीं बल्कि पेट्रोल के रेट हैं। जयवर्धन सिंह ने अपने ट्विटर हैंडल पर ट्विट करते हुए कहा है कि, 107.56 ये "मन की बात" वाली रेडियो फ्रीक्वेंसी नहीं, पेट्रोल का रेट है!!!' 

दरअसल देश भर में लगातार बढ़ते पेट्रोल डीज़ल के दाम ने आम आदमी की कमर तोड़ कर रख दी है। पेट्रोल डीज़ल के बढ़ते दामों की मार से मध्यप्रदेश भी अछूता नहीं है। राजधानी भोपाल सहित प्रदेश के कई हिस्सों में इस समय पेट्रोल 107 रुपए से अधिक कीमत पर मिल रहा है। भोपाल में इस समय पेट्रोल की कीमत 107.07 रुपए है, जबकि डीज़ल 97.93 रुपए प्रति लीटर की दर से मिल रहा है।वहीं इंदौर में पेट्रोल 107.14 जबकि डीज़ल 98.02 रुपए प्रति लीटर मिल रहा है। जबलपुर में पेट्रोल 107.11 और डीज़ल 97.99 रुपए प्रति लीटर है। ग्वालियर में पेट्रोल 107.03 जबकि डीज़ल 97.89 रुपए प्रति लीटर है। वहीं सागर में पेट्रोल की कीमत 106.32 रुपए है, जबकि डीज़ल 97.32 प्रति लीटर है।  

यह भी पढ़ें: शिक्षा मंत्री इंदर सिंह परमार का शर्मनाक बयान, फीस कम करने की मांग लेकर आए लोगों से कहा, मरना है तो मर जाओ

बढ़ती कीमतों पर ऊर्जा मंत्री का अजीबो गरीब बयान 
प्रदेश में लगातार बढ़ते दामों को लेकर जब मध्यप्रदेश के ऊर्जा मंत्री प्रद्युम्न सिंह तोमर से जब सवाल किया गया तब मंत्री ने कोई तर्कसंगत जवाब देने के बजाय अजीबो गरीब बयान देना ज़्यादा उचित समझा।प्रद्युम्न सिंह तोमर ने कहा कि लोगों को सेहत अच्छा रखने के लिए साइकिल चलाना चाहिए। ऊर्जा मंत्री ने कहा कि साइकिल शारीरिक रूप से स्वस्थ रखेगी। हमारे लिए पेट्रोल डीज़ल महत्वपूर्ण है या स्वास्थ्य? प्रद्युम्न सिंह तोमर ने कहा कि पेट्रोल डीज़ल के पैसे क्या नेताओं के घर में जाते हैं। इन पैसों का उपयोग गरीबों को राहत पहुंचाने के लिए किया जाता है। ऊर्जा मंत्री ने कहा कि यह पैसा उन लोगों के काम आ रहा है, जिन्हें सरकार दीवाली तक का मुफ्त राशन दे रही है।