Free Cyber Security Course: सरकार ने शुरू किया मुफ्त साइबर सुरक्षा कोर्स, ऑनलाइन होगी पढ़ाई

मध्य प्रदेश सरकार के साइबर सुरक्षा और जागरूकता कोर्स में 9वीं से 12वीं क्लास तक के विद्यार्थी ऑनलाइन कर सकते हैं पढ़ाई, कोर्स के लिए नहीं देनी होगी कोई फ़ीस

Updated: Nov 07, 2020, 08:22 PM IST

Free Cyber Security Course: सरकार ने शुरू किया मुफ्त साइबर सुरक्षा कोर्स, ऑनलाइन होगी पढ़ाई
Photo Courtesy: Bhaskar

भोपाल। मध्य प्रदेश सरकार छात्रों को साइबर सिक्योरिटी की ट्रेनिंग देगी, वो भी बिलकुल मुफ्त। यह पहला मौका है जब छात्रों को सायबर क्राइम का ऑन लाइन कोर्स कराया जाएगा। शनिवार को पोर्टल और एप का ऑनलाइन शुभारंभ हुआ। जिसपर 31 दिसंबर तक रजिस्ट्रेशन कराना जरूरी होगा। इसके लिए ऑनलाइन परीक्षा होगी, जिसमें कुल 30 सवाल पूछे जाएंगे। परीक्षा में पास होने के लिए छात्रों को 40% अंक लाना जरूरी होगा।

सरकार ने विद्यार्थियों के लिए ऑनलाइन साइबर क्राइम से जुड़ा कोर्स शुरू किया है। इस कोर्स में साइबर क्राइम से बचाव, साइबर सुरक्षा जागरूकता के बारे में ऑनलाइन पढ़ाई होगी। रजिस्ट्रेशन कराने के बाद स्टूडेंट्स का टेस्ट होगा जिसमें कुल 30 सवाल पूछे जाएंगे। इस ऑनलाइन परीक्षा में 9वीं से 12वीं तक के विद्यार्थी भाग ले सकेंगे।

इस परीक्षा में पास होने के लिए विद्यार्थियों को 90 नंबर में से 40% मार्क्स लाना अनिवार्य होगा। इसमें सफल होने वाले विद्यार्थियों को सर्टिफिकेट मिलेगा। रजिस्ट्रेशन कराने वाले छात्र-छात्राओं की 31 दिसंबर तक क्लास ऑनलाइन होगी।

आपको बता दें कि यह ऑनलाइन साइबर एजुकेशन कोर्स स्कूल शिक्षा विभाग और एमपीकॉन लिमिटेड की ओर से संचालित किया जाएगा। विद्यार्थी mpcon की वेबसाइट mpced.mpconsutancy.org साइबर सिक्योरिटी अवेयरनेस टेस्ट पर ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं। यह कोर्स फ्री है। विद्यार्थी यह ऑनलाइन परीक्षा घर या स्कूल के कंप्यूटर और स्मार्टफोन से भी दे सकते हैं। इस परीक्षा में सफल होने वाले विद्यार्थियों को सर्टिफिकेट दिया जाएगा। जिसे एमपीकॉन की वेबसाइट से डाउनलोड किया जा सकेगा।

इस आनलाइन कोर्स में विद्यार्थियों के साइबर स्पेस में होने वाले क्राइम और उससे बचने के तरीके बताए जाएंगे। साइबर क्राइम एवं प्रकार, साइबर कानून एवं सूचना प्रौद्योगिकी अधिनियम, साइबर शिष्टाचार के साथ  कंप्यूटर और मोबाइल के सुरक्षित उपयोग की जानकारी दी जाएगी। स्कूली छात्रों को इंटरनेट और ई-कॉमर्स सर्विस के साथ साइबर अटैक और उससे बचने के तरीकों की जानकारी दी जाएगी।

ऑनलाइन शॉपिंग, सोशल मीडिया के सुरक्षित उपयोग, बच्चों के खिलाफ होने वाले साइबर अपराध औऱ ऑनलाइन यौन शोषण के अपराध की जानकारी और रोकथाम के तरीके भी बताए जाएंगे।