मध्य प्रदेश में निजी स्कूल 14 दिसंबर से खुलने के आसार, स्कूल संचालकों ने दी है आंदोलन की धमकी

स्कूल शिक्षा विभाग ने गुरुवार को स्कूल संचालकों के पदाधिकारियों से इस मसले पर बातचीत भी की थी

Updated: Dec 12, 2020, 12:53 AM IST

मध्य प्रदेश में निजी स्कूल 14 दिसंबर से खुलने के आसार, स्कूल संचालकों ने दी है आंदोलन की धमकी
Photo Courtesy: India Tv

भोपाल। मध्य प्रदेश में निजी शैक्षणिक संस्थानों को खोले जाने का आदेश जल्द ही जारी किया जा सकता है। निजी संस्थानों से जुड़े संगठनों ने राज्य सरकार से कहा है कि अगर उन्हें जल्द ही स्कूल खोलने की इजाजत नहीं दी गई तो वे 14 दिसंबर को सीएम हाउस का घेराव करेंगे।

संगठनों की इस धमकी को देखते हुए स्कूल शिक्षा विभाग ने उनके पदाधिकारियों के साथ गुरुवार को बैठक भी की। इस बैठक में लोक शिक्षण संचालनालय की आयुक्त जयश्री कियावत के साथ साथ स्कूल शिक्षा विभाग के उपसचिव केके द्विवेदी भी मौजूद थे। मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार बैठक में विभाग की ओर से जल्द ही स्कूल खोले जाने का आश्वासन दिया गया था लेकिन स्कूल संगठनों के प्रभारियों ने लिखित आदेश के अलावा किसी भी मौखिक आश्वासन को मानने से साफ तौर पर इनकार कर दिया। 

ऐसे में अब कयास लगाए जा रहे हैं कि स्कूल शिक्षा विभाग जल्द ही दसवीं और बारहवीं के स्कूल खोल सकता है। नौंवी और ग्यारहवीं की कक्षाएं भी हफ्ते में दो दिन लगाए जाने की योजना बनाई जा रही है। स्कूल शिक्षा विभाग की ओर से जल्द ही यह आदेश जारी किए जा सकते हैं।

बता दें कि हाल ही में निजी संस्थानों से जुड़े संगठनों ने राजधानी भोपाल में प्रेस कॉन्फ्रेंस करते हुए कहा था कि स्कूल बंद होने के कारण निजी संस्थानों से जुड़े कर्मचारियों को आर्थिक तंगी का सामना करना पड़ रहा है। अगर जल्द ही स्कूल नहीं खोले गए तो प्रदेश के तीस लाख परिवार सीधे तौर पर इससे प्रभावित होंगे। संगठनों ने राज्य सरकार को 14 दिसंबर का अल्टीमेटम देते हुए कहा था कि अगर जल्द ही सरकार ने कोई फैसला नहीं किया तो वे 14 दिसंबर को सीएम हाउस का घेराव करेंगे। 

क्या चाहते हैं निजी स्कूलों के संगठन

- कक्षा 1 से 12 तक के स्कूलों की मान्यता में 5 वर्ष की वृद्धि की जाए।

-कक्षा 6वीं से 8वीं तक के स्कूल 1 जनवरी से खोले जाएं।

- पालकों के लिए फीस जमा करने की एक एडवाइजरी जारी हो।

-15 मई तक शैक्षणिक सत्र चले।