भाजपा सांसद को ढूंढने के लिए स्थानीय लोगों ने लगाए पोस्टर, 5 रुपए के पुरस्कार की घोषणा

राजगढ़ लोकसभा क्षेत्र से रोडमल नागर दूसरी बार सांसद बने हैं, 2019 लोकसभा चुनाव में भाजपा कार्यकर्ताओं द्वारा भारी विरोध करने के बावजूद भाजपा ने रोडमल नागर को लोकसभा प्रत्याशी बनाया था

Updated: Jun 20, 2022, 08:00 PM IST

भाजपा सांसद को ढूंढने के लिए स्थानीय लोगों ने लगाए पोस्टर,  5 रुपए के पुरस्कार की घोषणा
Photo Courtesy: Facebook

राजगढ़। मध्य प्रदेश के राजगढ़ में लोगों ने फेसबुक पर भाजपा सांसद रोडमल नागर के गुमशुदा होने की पोस्ट डाली है। उन्हें ढूंढने वाले को 5 रुपए का नगद पुरस्कार देने की घोषणा भी की है। केके मीना नाम के व्यक्ति की यह फेसबुक पोस्ट सोशल मीडिया पर वायरल हो रही है जिसे लेकर राजगढ़ लोकसभा क्षेत्र के मतदाता सांसद को खोजने पर अलग अलग पुरस्कार राशि की घोषणा कर रहे हैं। 

इस फेसबुक पोस्ट पर कमेंट करते हुए यूजर राजेंद्र सिंह मीणा ने लिखा कि "सवा रुपए ईनाम रखो"। एक अन्य यूजर राजेंद्र साहू ने लिखा कि "5 रुपया मेरे भी जोड़ देना इनाम में, सांसद 8 साल से लापता है"। एक अन्य यूजर जीवन मीना ने ईनाम राशि बढ़ाकर 11 रुपए कर दिया।

दरअसल राजगढ़ लोकसभा क्षेत्र से भाजपा सांसद रोडमल नागर की अपने लोकसभा क्षेत्र के अंतर्गत आनेवाली राघौगढ़ विधानसभा में उपस्थिति व सक्रियता कम है। जिसे लेकर भाजपा कार्यकर्ताओं से लेकर आम जनमानस में सांसद के प्रति नाराजगी है। इससे पहले भाजपा संगठन के दो पदाधिकारियों ने नागर के खिलाफ व्हाट्सएप ग्रुप में पोस्ट डाली थी। इसके बाद पार्टी संगठन द्वारा दोनों नेताओं को कारण बताओ नोटिस भी जारी किया गया था। 

यह भी पढ़ें: शराब ठेके पर भगवा झंडा देख भड़कीं उमा भारती, वहां मौजूद लोगों से लगवाए जय श्री राम के नारे

भाजपा, अपने पार्टी नेताओं को कारण बताओ नोटिस जारी करने के बजाय स्थानीय सांसद को क्षेत्र में सक्रियता बनाए रखने पर जोर देना चाहिए। बता दें कि राजगढ़ लोकसभा क्षेत्र से रोडमल नागर दूसरी बार सांसद बने हैं। 2019 लोकसभा चुनाव में भाजपा कार्यकर्ताओं द्वारा भारी विरोध करने के बावजूद भाजपा ने रोडमल नागर को लोकसभा प्रत्याशी बनाया था। गौरतलब है कि राघौगढ़ विधानसभा क्षेत्र से कांग्रेस के दिग्गज नेता दिग्विजय सिंह के पुत्र पूर्व मंत्री जयवर्धन सिंह विधायक है।

इससे पहले कोरोना महामारी में लॉकडॉन के समय भोपाल से भाजपा सांसद प्रज्ञा ठाकुर के गुमशुदा होने को लेकर राजधानी भोपाल में कई जगहों पर पोस्टर चस्पा किए गए थे। पोस्टर में लिखा था कि 'गुमशुदा की तलाश' कोरोना महामारी से भोपाल की जनता परेशान, सांसद प्रज्ञा ठाकुर कहा लापता .