बेरोजगारी से तंग आकर युवक ने की आत्महत्या, इकलौते बेटे की मौत से घर में पसरा मातम

भोपाल में एक युवक ने नौकरी छिन जाने से दुखी होकर दी जान, गला रेत कर मौत को लगाया गले, डेढ़ महीने पहले छूटी थी नौकरी

Updated: Sep 02, 2021, 06:56 PM IST

बेरोजगारी से तंग आकर युवक ने की आत्महत्या, इकलौते बेटे की मौत से घर में पसरा मातम
Photo Courtesy: news byte

भोपाल। जहांगीराबाद थाना इलाके में एक युवक ने नौकरी जाने से दुखी होकर आत्महत्या कर ली। युवक ने सब्जी काटने के चाकू से अपना गला रेत लिया, जिसके बाद उसे अस्पताल ले जाया गया, जहां इलाज के दौरान उसकी मौत हो गई। जुबैर खान अपने माता पिता की इकलौती संतान था। बताया जा रहा है कि वह किसी आइसक्रीम फैक्ट्री में काम करता था, करीब डेढ़ महीने पहले उसकी नौकरी छूट गई थी। तब से वह तनाव में रहने लगा था। जिस वक्त उसने आत्महत्या की उस समय घर में उसके माता पिता और पत्नी थे।

परिजन जब भी उसे दूसरी नौकरी तलाशने को कहते तो वह नाराज हो जाता था। डिप्रेशन में आकर उसने नशा करना शुरु कर दिया था। शराब के नशे में ही उसने आत्मघाती कदम उठाया।

  और पढ़ें :बिजली संकट पर लगातार झूठ परोस रही है शिवराज सरकार, कमल नाथ ने मांगे सवालों के जवाब

बताया जा रहा है कि घर वाले उसे समझा रहे थे कि तनाव ना ले नया काम तलाशे, लेकिन उसने किसी की नहीं सुनी और जान देदी। परिजन ने पुलिस को बताया है कि जब भी उसे दूसरा काम खोजने के लिए कहा जाता तो वह आग बबूला हो जाता था।

  और पढ़ें: मध्य प्रदेश में नवंबर में आएंगे 20 अफ्रीकी चीते, कर्मचारियों को मिलेगा सुरक्षा के लिए विशेष हथियार

अक्सर उसके माता-पिता और बहन उसे समझाने की कोशिश करते थे, लेकिन वह नशा करना बंद नहीं कर रहा था। फिलहाल पुलिस ने मामला दर्ज कर लिया है।

और पढ़ें: बेरोज़गार इंजीनियर ने पत्नी के साथ खाया ज़हर, टाइल्स कटर से रेता बच्चों का गला, इंजीनियर और बेटे की हुई मौत 

पिछले हफ्ते भी भोपाल के एक दंपति ने बेरोजगारी और पैसों की कमी की वजह से परिवार समेत जान दे दी थी, इस घटना में पति और बेटे की मौत हो गई थी। मां और बेटी जिंदगी और मौत की जंग लड़ रहे हैं। दंपति ने जहर खाया था, जबकि बच्चों का गला काट दिया था।