AAP ने अजय कोठियाल को घोषित किया अपना सीएम उम्मीदवार, उत्तराखंड चुनावों के मद्देनज़र मिली ज़िम्मेदारी

अजय कोठियाल रिटायर्ड कर्नल हैं, उन्होंने जुलाई महीने में ही आम आदमी पार्टी ज्वाइन की थी, इसके ठीक एक महीने बाद ही आप ने कोठियाल को अपने सीएम चेहरे के तौर पर प्रोजेक्ट कर दिया

Updated: Aug 17, 2021, 04:21 PM IST

AAP ने अजय कोठियाल को घोषित किया अपना सीएम उम्मीदवार, उत्तराखंड चुनावों के मद्देनज़र मिली ज़िम्मेदारी
Photo Courtesy : Scroll.in

नई दिल्ली। अगले साल होने वाले उत्तराखंड विधानसभा चुनावों से पहले आम आदमी पार्टी ने अपना मुख्यमंत्री पद का दावेदार घोषित कर दिया है। आम आदमी पार्टी ने रिटायर्ड कर्नल अजय कोठियाल को सीएम के चेहरे के तौर पर प्रोजेक्ट किया है। राज्य में होने वाले चुनावों से पहले अपने सीएम के चेहरा प्रोजेक्ट करने वाली पार्टी है।  

अजय कोठियाल को मंगलवार को आप का सीएम कैंडिडेट घोषित किया गया है। हालांकि इस घोषणा के ठीक एक दिन पहले दिल्ली के सीएम और आम आदमी पार्टी के संंयोजक अरविंद केजरीवाल ने यह घोषणा की थी कि आम आदमी पार्टी कल एक बेहद महत्वपूर्ण घोषणा करने जा रही है। उत्तराखंड की प्रगति और विकास के लिए ये घोषणा एक मील का पत्थर साबित होगी। सीएम कैंडिडेट के तौर पर कोठियाल के नाम की घोषणा होने के बाद अरविंद केजरीवाल ने अपने ट्विटर हैंडल पर लिखा, आम आदमी पार्टी ने आज उत्तराखंड में कर्नल अजय कोटियाल को अपना CM उम्मीदवार घोषित किया। 
उत्तराखंड का अगला CM कौन होगा?एक देशभक्त फ़ौजी या कोई भ्रष्ट नेता?   

अजय कोठियाल ने जुलाई महीने में ही आम आदमी पार्टी की सदस्यता ली थी। कोठियाल के आप में शामिल होने के ठीक एक महीने के भीतर ही पार्टी ने उन्हें सीएम के चेहरे के तौर पर प्रोजेक्ट कर दिया। कोठियाल पहले गंगोत्री विधानसभा सीट से उत्तराखंड के पूर्व मुख्यमंत्री तीरथ सिंह रावत के खिलाफ चुनाव लड़ने वाले थे। लेकिन बीजेपी ने तीरथ सिंह रावत से मुख्यमंत्री की गद्दी छीन ली। जिसके बाद तीरथ सिंह रावत के विधानसभा का उपचुनाव लड़ने की गुंजाइश नहीं बची।  

अजय कोठियाल सेना में अपनी सेवा दे चुके हैं। 1992 से 2007 तक उन्होंने भारतीय थल सेना में अपनी सेवा दी थी। सेना में रहते वक्त उन्होंने कई ऑपरेशन्स को अंजाम दिया था। इसके साथ ही उत्तराखंड त्रासदी के बाद केदारनाथ के पुनर्निर्माण में उनका बहुत बड़ा योगदान माना जाता है। आम आदमी पार्टी भी कोठियाल के इसी योगदान को चुनावों में भुनाना चाहती है।