जल्द ही हरिगढ़ के नाम से जाना जाएगा अलीगढ़, जिला पंचायत बोर्ड ने पास किया प्रस्ताव

अलीगढ़ के साथ साथ मैनपुरी का भी बदलेगा नाम, मयन ऋषि के नाम पर रखा जाएगा मैनपुरी का नाम

Updated: Aug 17, 2021, 01:35 PM IST

जल्द ही हरिगढ़ के नाम से जाना जाएगा अलीगढ़, जिला पंचायत बोर्ड ने पास किया प्रस्ताव
Photo Courtesy: Amar Ujala

लखनऊ। इलाहाबाद और फैजाबाद का नाम बदले जाने के बाद अब जल्द ही अलीगढ़ और मैनपुरी का नाम भी बदला जाएगा। जिला पंचायत बोर्ड की बैठक में नाम बदले जाने को लेकर प्रस्ताव पारित कर दिया गया है। अलीगढ़ का नाम बदलकर हरिगढ़ और मैनपुरी का नाम मयन ऋषि के नाम पर करने की तैयारी शुरू हो गई है। 

सोमवार को नवगठित अलीगढ़ जिला पंचायत और मैनपुरी जिला पंचायत की बैठक हुई थी। दोनों ही जगह शहरों के नाम बदले जाने का प्रस्ताव रखा गया। अलीगढ़ जिला पंचायत में यह प्रस्ताव सर्वसम्मति से पारित कर दिया गया। जबकि मैनपुरी जिला पंचायत की बैठक में विरोध के बावजूद बहुमत होने के कारण यह प्रस्ताव पारित कर दिया गया। प्रस्ताव पारित होने के बाद अब इसकी रिपोर्ट उत्तर प्रदेश शासन को भेज दी गई है। जिसके बाद अब जल्द ही इन शहरों के नाम बदले जाने की संभावना बढ़ गई है। 

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक अलीगढ़ जिला पंचायत की बैठक में केहरी सिंह और उमेश यादव ने अलीगढ़ का नाम हरिगढ़ रखने का प्रस्ताव रखा, जिसे सर्वसम्मति से पारित कर दिया गया। वहीं मैनपुरी जिला पंचायत की बैठक में नाम बदले जाने के संबंध में यह दलील दी गई कि मैनपुरी मयन ऋषि की तपोभूमि रही है, लिहाज़ा इसका नाम मयन नगर रखा जाना चाहिए। 

 2015 में विश्व हिंदू परिषद ने एक प्रस्ताव पारित करते हुए कहा था कि प्राचीन समय में अलीगढ़, हरिगढ़ के ही नाम से जाना जाता था। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री रहे कल्याण सिंह ने अलीगढ़ का नाम हरिगढ़ में तब्दील करने का प्रयास किया था, लेकिन केंद्र में कांग्रेस की सरकार थी, इसलिए कल्याण सिंह को अलीगढ़ का नाम बदलने में सफलता हासिल नहीं हुई। 

उत्तर प्रदेश की मौजूदा योगी आदित्यनाथ सरकार इलाहाबाद और फैजाबाद का नाम भी बदल चुकी है। योगी आदित्यनाथ सरकार ने अपने मौजूदा कार्यकाल में फैजाबाद का नाम बदलकर अयोध्या और इलाहाबाद का नाम बदलकर प्रयागराज कर दिया। खुद राज्य के वर्तमान सीएम योगी आदित्यनाथ पर गोरखपुर से सांसद रहने के दौरान शहर के स्थलों के नाम बदलकर हिंदू नामों पर रखने के आरोप लगते रहे थे। उर्दू बाजार का नाम हिंदी बाजार, हुमांयुपुर को हनुमान नगर, मीना बाजार को माया बाजार और अलीनगर का नाम आर्यनगर करने के आरोप योगी आदित्यनाथ पर लग चुके हैं।