शीतकालीन सत्र से पहले केंद्र सरकार ने बुलाई सर्वदलीय बैठक, 29 नवम्बर से शुरू होने वाला है सत्र

रविवार को केंद्र सरकार ने सर्वदलीय बैठक बुलाई है, इसमें शामिल होने के लिए संसद के दोनों सदनों के सदस्यों को बुलावा भेजा गया है, केंद्र सरकार की ओर से इस बैठक में प्रधानमंत्री मोदी, गृह मंत्री अमित शाह और रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह के शामिल होने की उम्मीद है

Updated: Nov 23, 2021, 12:07 PM IST

शीतकालीन सत्र से पहले केंद्र सरकार ने बुलाई सर्वदलीय बैठक, 29 नवम्बर से शुरू होने वाला है सत्र

नई दिल्ली। संसद के शीतकालीन सत्र से पहले केंद्र सरकार ने सर्वदलीय बैठक बुलाई है। आगामी सत्र के सुचारू रूप से संचालन हेतु रविवार को सर्वदलीय बैठक बुलाई गई है। इस बैठक में आगामी सत्र में संसद की कार्यवाही तथा कृषि कानूनों पर चर्चा होने की संभावना जताई जा रही है। 

सर्वदलीय बैठक में दोनों सदनों के सदस्यों के शामिल होने की संभावना जताई जा रही है। केंद्र सरकार की तरफ से इस बैठक में प्रधानमंत्री मोदी, गृह मंत्री अमित शाह और रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह मौजूद रहेंगे। वहीं संसदीय कार्य मंत्री प्रह्लाद जोशी भी इस बैठक में शामिल रहेंगे। 

सर्वदलीय बैठक के अलावा दोनों सदनों के सदस्यों की बैठक बुलाई जा सकती है। राज्यसभा के सभापति वैंकैया नायडू रविवार शाम को ही ऊपरी सदन के तमाम सदस्यों की बैठक बुला सकते हैं। वहीं लोकसभा अध्यक्ष ओम बिरला द्वारा भी निचले सदन के सदस्यों की बैठक बुलाई जानी की संभावना है। 

आगामी शीतकालीन सत्र मौजूदा लोकसभा(17वीं) का सातवां सत्र है। यह सत्र आम सत्रों के मुकाबले महत्वपूर्ण इसलिए है क्योंकि इस सत्र में तीनों विवादास्पद कृषि कानूनों को केंद्र सरकार वापस लेने वाली है। कानूनों की वापसी के लिए दोनों ही सदनों में विधेयक पारित होना है। इसके अलावा इस सत्र में केंद्र सरकार क्रिप्टो करेंसी तथा निजी डेटा सुरक्षा विधेयक भी पेश कर सकती है। संसद का यह सत्र 29 नवम्बर से शुरू होगा, जो कि 23 दिसंबर तक चलेगा।