Bihar Election 2020: तीन चरण में 28 अक्टूबर, 3 और 7 नवंबर को बिहार विधानसभा चुनाव, 10 नवंबर को रिजल्ट

Election Commission Of India: चुनाव आयोग की घोषणा के साथ ही आचार संहिता लागू, कोरोना काल में वोटिंग का समय बढ़ाया, किए गए सुरक्षा उपाय

Updated: Sep 25, 2020 04:01 PM IST

Bihar Election 2020: तीन चरण में 28 अक्टूबर, 3 और 7 नवंबर को बिहार विधानसभा चुनाव, 10 नवंबर को रिजल्ट

नई दिल्ली। चुनाव आयोग ने बिहार विधानसभा चुनाव की तारीखों की घोषणा कर दी है। चुनाव आयोग ने कहा कि कोरोना काल में बिहार में सबसे बड़ा चुनाव हो रहा है। बिहार विधासभा चुनाव तीन चरणों में होगा। 28 अक्टूबर, 3 और 7 नवंबर को मतदान होगा। 10 नवंबर को वोटिंग होगी। परिणाम 10 नवंबर को घोषित होंगे। 

मुख्य चुनाव आयुक्त सुनील अरोड़ा ने कहा कि बिहार चुनाव कोरोना काल में दुनिया में सबसे बड़ा चुनाव है। बिहार में कुल 7 करोड़ 79 लाख वोटर्स हैं। 3 करोड़ 39 लाख महिला वोटर्स हैं। 3 करोड़ 79 लाख पुरुष वोटर्स हैं।

मुख्य चुनाव आयुक्त ने कहा कि 7 लाख हैंड सैनेटाइजर्स 46 लाख मास्क, 6 लाख पीपीई किट, 6 लाख फेस शील्ड और 3 लाख दस्तानों  की व्यवस्था की गई है। मतदाताओं के लिए 7.2 करोड़ दस्ताने की व्यवस्था की गई है। 

मुख्य चुनाव आयुक्त ने कहा कि रिपोर्ट के मुताबिक, 18.87 लाख प्रवासी हैं बिहार में। इनमें से 16.6 लाख 18 सालों से वोट नहीं डाल पाए हैं। 13 लाख का नाम वोटर लिस्ट में मौजूद है, बाकी का नाम शामिल किया गया है।  

कोरोना मरीज आखिरी समय में स्वास्थ्य कर्मियों की निगरानी में वोट डालेंगे। मतदान का समय एक घंटे के लिए बढ़ाया गया है। सुबह सात बजे से शाम 6 बजे तक वोटिंग होगी। चुनाव आयोग ने कहा कि जहां पर जरूरत होगी और मांग की जाएगी, वहां पोस्टल बैलेट की व्यवस्था की जाएगी। 

नॉमिनेशन और एफिडेविट ऑनलाइन भी जमा कर सकते हैं। ऑफलाइन प्रक्रिया भी जारी रहेगी। कैंडिडेट जमानत राशि भी ऑनलाइन जमा करा सकते हैं। नॉमिनेशन फाइल करते समय दो ही लोग जा सकते हैं। वाहन भी अधिकतम दो ही होंगे। 

घर-घर चुनाव प्रचार की अनुमति होगी, लेकिन कैंडिडेट सहित अधिकतम 5 लोग हो सकते हैं। रोड शो की शर्तों के साथ अनुमति होगी, वाहनों का काफिला 5 गाड़ियों के बाद ब्रेक होगा। चुनाव प्रचार सिर्फ वर्चुअल होगा। 

राजनीतिक दलों को के लिए यह अनिवार्य होगा कि वे अपने वेबसाइट पर कैंडिडेट्स के खिलाफ अपराधिक मामलों की जानकारी दें। इसके अलावा कैंडिडेट्स को अखबार में भी इसकी जानकारी देनी होगी। सोशल मीडिया के दुरुपयोग पर कार्रवाई की जाएगी।

 

पहले चरण का मतदान – 28 अक्टूबर

दूसरे चरण का मतदान – 3 नवंबर

तीसरे चरण का मतदान – 7 नवंबर

चुनाव परिणाम  – 10 नवंबर

पहले चरण में  71 विधानसभा में वोटिंग होगी। दूसरे चरण में 91 विधानसभा में वोटिंग और 78 विधानसभा सीटों के लिए वोटिंग।

बिहार विधानसभा में कुल 243 सीटें हैं। 243 में से 38 सीटें अनुसूचित जाति के लिए और 2 सीटें अनुसूचित जनजाति के लिए आरक्षित हैं। 2015 में बिहार में 6.68 करोड़ वोटर थे। इनमें 56 फीसदी लोगों ने ही चुनाव में वोट दिया था।

बिहार की 243 सदस्यीय विधानसभा का कार्यकाल 29 नवंबर को समाप्त होगा।

 

 

चुनाव के लिए गाइडलाइन जारी कर चुका है चुनाव आयोग 

कोरोना महामारी को देखते हुए चुनाव आयोग चुनाव करवाने को लेकर अपनी गाइडलाइन पहले ही जारी कर चुका है। चुनाव आयोग की गाइडलाइन के अनुसार विधानसभा चुनाव के लिए नामांकन ऑनलाइन भरे जाएंगे। चुनाव प्रचार के दौरान डोर-टू-डोर कैंपन में अधिकतम पांच लोगों की इजाजत होगी। रोड शो के दौरान एक काफिले में 10 की जगह पांच गाड़ियों की टुकड़ियां बनानी होंगी। वाहनों के काफिले के दो सेटों के बीच 100 मीटर के अंतराल की जगह आधा घंटे का अंतर होना चाहिए।