Bihar Election 2020: बिहार के पूर्व डीजीपी गुप्तेश्वर पांडेय इनकार करते-करते आखिर हो ही गए जेडीयू में शामिल

Gupteshwar Pandey: एक दिन पहले तक करते रहे जेडीयू में शामिल होने की संभावना से इनकार, लेकिन आखिरकार सच साबित हुई अटकलें

Updated: Sep-27, 2020, 09:14 PM IST

Bihar Election 2020: बिहार के पूर्व डीजीपी गुप्तेश्वर पांडेय इनकार करते-करते आखिर हो ही गए जेडीयू में शामिल
Photo Courtesy : ANI

पटना। बिहार के पूर्व डीजीपी गुप्तेश्वर पांडेय ने आखिरकार जेडीयू में शामिल हो ही गए। तमाम अटकलों के बीच रविवार दोपहर गुप्तेश्वर पांडेय ने बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के आवास पर जनता दल यूनाइटेड की सदस्यता ले ली। गुप्तेश्वर पांडेय ने हाल ही में वीआरएस (स्वैच्छिक सेवानिवृति) ली थी। 

गुप्तेश्वर पांडेय जेडीयू में शामिल होने से एक दिन पहले शनिवार शाम को पार्टी के कार्यालय पहुंचे थे। वहां पर उन्होंने मुख्यमंत्री नीतीश कुमार से मुलाकात भी की थी। हालांकि तब गुप्तेश्वर पांडेय ने जेडीयू में शामिल होने की संभावना से इनकार करते हुए कहा था कि वे मुख्यमंत्री से केवल शिष्टाचार भेंट करने पहुंचे थे। 

और पढ़ें: DGP Takes VRS: गुप्तेश्वर पांडेय ने छोड़ा बिहार के डीजीपी का पद, रिया के वकील का तंज, यह है जस्टिस ऑफ गुप्तेश्वर

बता दें कि गुप्तेश्वर पांडेय 1987 बैच के पुलिस सेवा अधिकारी हैं। सुशांत सिंह राजपूत की मौत के मामले में उन्होंने खुलकर नीतीश कुमार के पक्ष में और रिया चक्रवर्ती के खिलाफ बयानबाज़ी भी की थी। उनके इस बयान पर तो काफी विवाद भी हुआ था कि रिया चक्रवर्ती की औकात नहीं है कि वो नीतीश कुमार के खिलाफ कुछ बोले। तभी से गुप्तेश्वर पांडेय के राजनीति में कदम रखने की अटकलें लगने शुरु हो चुकी थीं। और चुनाव से ठीक पहले जब उन्होंने राज्य के जीडीपी की अहम जिम्मेदारी से पल्ला झाड़कर स्वैच्छिक सेवा निवृत्ति यानी वीआरएस लेने का एलान कर दिया तब तो यह तय ही माना जाने लगा कि वे किसी भी पल जेडीयू में शामिल हो सकते हैं। फिर भी वे आखिर वक्त तक सच्चाई को नकारते रहे।