बीजेपी ने अग्निमित्र पॉल को दिया कारण बताओ नोटिस, पार्टी विरोधी बयानबाजी का आरोप

पश्चिम बंगाल बीजेपी महिला मोर्चा की अध्यक्ष हैं अग्निमित्र पॉल, पिछले महीने ही विवादित बयान देते हुए कहा था कि सीएम बैनर्जी अपने कार्यकर्ताओं को रेप करने के लिए कहती हैं

Updated: Dec 24, 2020, 01:29 AM IST

बीजेपी ने अग्निमित्र पॉल को दिया कारण बताओ नोटिस, पार्टी विरोधी बयानबाजी का आरोप
Photo Courtesy : India.com

कोलकाता। पश्चिम बंगाल बीजेपी महिला मोर्चा की अध्यक्ष अग्निमित्र पॉल मुश्किलों में फंसती दिख रहीं हैं। बीजेपी ने पॉल को कारण बताओ नोटिस जारी किया है। अग्निमित्र पर पार्टी विरोधी बयान देने का आरोप है। उन्हें इस नोटिस के जवाब के लिए सात दिनों का समय दिया गया है। इसके एक दिन पहले ही पश्चिम बंगाल बीजेपी ने अपने जनरल सेक्रेटरी सांयतनु बासु को भी कारण बताओ नोटिस जारी किया है।

पार्टी द्वारा अग्निमित्र को जारी किए गए नोटिस में लिखा है कि बीते 18 दिसंबर को आपने इलेक्ट्रॉनिक मीडिया को जो बाइट दिया वह अपमानजनक और पार्टी विरोधी है। यह संगठन के भावनाओं और फैसलों के विरुद्ध जाता है। इसके लिए पार्टी आपके खिलाफ कार्रवाई क्यों न करे।' दरअसल, जब बीते दिनों चर्चा थी कि टीएमसी विधायक जितेंद्र तिवारी बीजेपी में शामिल हो सकते हैं। इस दौरान अग्निमित्र और सांयतनु बसु ने जितेंद्र तिवारी का खुले मंच पर विरोध किया था और कहा था कि ऐसे लोगों को पार्टी में जगह नहीं मिलनी चाहिए।

इसके बाद जितेंद्र तिवारी बीजेपी में नहीं आए थे और तृणमूल के प्राथमिक सदस्यता से इस्तीफा देने के बावजूद वह एक बार फिर से टीएसमसी के पाले में चले गए थे। बताया जा रहा है कि इसी बयानबाजी के चलते अग्निमित्र पॉल और सांयतनु बासु को कारण बताओ नोटिस जारी किया गया है। हालांकि, जितेंद्र तिवारी का विरोध सिर्फ इन नेताओं ने नहीं किया था। उस दौरान केंद्रीय मंत्री व बीजेपी सांसद बाबुल सुप्रियो ने भी एक फेसबुक पोस्ट के माध्यम से कहा था कि जबतक मैं हूं, पार्टी में जितेंद्र तिवारी जैसे लोग नहीं आ सकेंगे।

यह भी पढ़ें: बंगाल में बीजेपी ने दहाई का आंकड़ा पार किया तो छोड़ दूंगा काम, ममता के रणनीतिकार प्रशांत किशोर का दावा

बाबुल सुप्रियो ने अपने वीडियो यह भी आरोप लगाया था कि जितेंद्र के इशारे पर उनके समर्थकों ने मेरे ऊपर आसनसोल में हिंसक हमला किए जिससे मैं बुरी तरह जख्मी हो गया। खास बात यह है कि बंगाल बीजेपी के अध्यक्ष दिलीप जोश ने भी सुप्रियो के इस बयान का समर्थन किया था। मिदनापुर से बीजेपी सांसद दिलीप घोष ने तब कहा था कि बाबुल सुप्रियो ठीक कह रहे हैं।' अब सवाल यह उठता है कि बीजेपी इन बड़े नेताओं को नोटिस भेजेगी? 

अग्निमित्र पॉल और सांयतनु बासु ने भी तिवारी को लेकर वही बयानबाजी किया था जो बाबुल सुप्रियो ने किया और उसका समर्थन खुद बीजेपी अध्यक्ष भी कर रहे थे। हालांकि, अग्निमित्र पॉल की बात करें तो विवादित बयानों से उनका पुराना नाता रहा है। बीते महीने ही उन्होंने कहा था कि, 'ममता बनर्जी अपने समर्थकों से कहती हैं कि अगर अच्छा फील करते हो, तो जाओ और बलात्कार करो मैं सब देख लूंगी।'