पैगंबर के विरुद्ध टिप्पणी मामले में BJP विधायक टी राजा फिर से गिरफ्तार, दो दिन पहले ही कोर्ट ने दी थी जमानत

तेलंगाना पुलिस ने विधायक टी राजा सिंह को पैगंबर मुहम्मद के खिलाफ टिप्पणी के आरोप में हैदराबाद स्थित उनके आवास से गिरफ्तार कर लिया है।

Updated: Aug 25, 2022, 05:53 PM IST

पैगंबर के विरुद्ध टिप्पणी मामले में BJP विधायक टी राजा फिर से गिरफ्तार, दो दिन पहले ही कोर्ट ने दी थी जमानत

हैदराबाद। तेलंगाना पुलिस ने बीजेपी विधायक टी राजा सिंह को पैगंबर मुहम्मद के खिलाफ टिप्पणी मामले में एक बार फिर गिरफ्तार कर लिया है।इसके पहले उन्हें 23 अगस्त को पैगंबर मुहम्मद पर टिप्पणी मामले में गिरफ्तार किया गया था। हालांकि, उसी शाम उन्हें लोकल कोर्ट ने जमानत दे दी थी।

दरअसल, आज भी राजा सिंह ने कोर्ट के प्रतिबंध के बावजूद 'राज्‍य के सांप्रदायिक माहौल' के बारे में एक वीडियो जारी किया था। इसमें उन्‍होंने दो मंत्री केटी रामाराव और महमूद अली के अलावा सांसद असदुद्दीन ओवैसी और कॉमेडियन मुनव्‍वर फारुकी पर निशाना साधा। इसके बाद पुलिस उन्हें हैदराबाद स्थित उनके आवास से गिरफ्तार कर ले गई।

यह भी पढ़ें: पेगासस जासूसी कांड: SC की कमेटी ने सौंपी रिपोर्ट, 5 फोन में मिला मालवेयर, केंद्र ने जांच में नहीं किया सहयोग

वीडियो में राजा सिंह ने कहा कि, 'नगर विकास मंत्री केटी रामाराव (KTR) और गृह मंत्री महमूद अली के कारण तेलंगाना का माहौल आज दूषित है। केटीआर नास्तिक हैं और किसी धर्म को नहीं मानते। इनकी पार्टी एआईएमआई के ओवैसी के साथ मुस्लिम वोट बैंक की राजनीति करती है। तेलंगाना में पुलिस, असदुद्दीन ओवैसी के हाथों की कठपुतली है। हैदराबाद के सांसद ओवैसी के समर्थकों को पत्‍थर फेंकने की छूट है...कोई एफआईआर नहीं, कोई गिरफ्तारी नहीं।'

राजा सिंह की रिहाई के खिलाफ हैदराबाद पुलिस ने हाई कोर्ट में अर्जी दाखिल की है। अदालत में पुलिस ने कहा है कि राजा सिंह का बयान भड़काऊ था और उन्हें रिहा करने के चलते समाज में अशांति फैल रही है। हैदराबाद पुलिस ने बताया कि टी. राजा सिंह को प्रिवेंशन डिटेंशन ऐक्ट के तहत गिरफ्तार किया है। उनके खिलाफ कुल 101 केस दर्ज हैं। इनमें से 18 मामले सांप्रदायिक भावनाओं को भड़काने के हैं। मंगलहाट पुलिस ने पीडी ऐक्ट के तहत उनके खिलाफ कार्रवाई की है। उन्हें चेरियापल्ली सेंट्रल जेल में रखा गया है।