BSEB Results: बिहार बोर्ड ने जारी किया 10वीं का रिजल्ट, 484 नंबरों के साथ 3 छात्रों ने किया टॉप

पूजा कुमारी, सुभाषिनी और संदीप कुमार ने 484 नंबर लाकर किया टॉप, टॉप टेन में शामिल हुए 101 छात्र, जमुई के सिमुलतल्ला आवासीय विधालय के 13 छात्र शामिल

Updated: Apr 05, 2021, 06:41 PM IST

BSEB Results: बिहार बोर्ड ने जारी किया 10वीं का रिजल्ट, 484 नंबरों के साथ 3 छात्रों ने किया टॉप
Photo Courtsey : News18

पटना। बिहार बोर्ड 10वीं की परीक्षा देने वाले बिहार के लाखों छात्रों के इंतजार की घड़ियां समाप्त हो गई है। बिहार स्कूल एग्जामिनेशन बोर्ड ने 10वीं का रिजल्ट जारी कर दिया है। बिहार के शिक्षा मंत्री विजय कुमार चौधरी ने मैट्रिक परीक्षा 2021 के नतीजे बिहार बोर्ड कार्यालय में जारी किया। बीएसईबी द्वारा जारी परिणाम के मुताबिक मैट्रिक परीक्षा में 78.17 फीसदी छात्र पास हुए हैं। पिछले साल की तुलना में इस बार परिणाम में गिरावट आई है।

BSEB द्वारा जारी नतीजों के अनुसार इस बार 4 लाख 13 हजार 087 स्‍टूडेंट्स फर्स्‍ट डिवीज़न से पास हुए हैं, 5 लाख 615 स्‍टूडेंट्स सेकेण्‍ड डिवीज़न पास हुए हैं वहीं 3 लाख 78 हजार 980 स्‍टूडेंट्स को थर्ड डिवीजन प्राप्त हुए हैं। टॉप करने वाले छात्रों में रोहतास के संदीप, जमुई की शुभदर्शिनी और पूजा कुमारी पहले स्थान पर हैं। तीनों संयुक्त टॉपर्स ने 500 में 484 अंक यानी 96.8 फीसदी प्राप्त किए हैं। इस बार टॉप 10 में कुल 101 छात्र शामिल हैं जो अबतक का सबसे ज्यादा है। जमुई के सिमुलतल्ला आवासीय विद्यालय के 13 छात्रों ने टॉप दस में अपनी जगह पक्की की है।

ऐसे देखें अपना रिजल्ट

अपना रिजल्ट देखने के लिए विद्यार्थियों को बोर्ड की आधिकारिक वेबसाइट biharboardonline.bihar.gov.in पर जाना होगा। वेबसाइट के होमपेज पर रिजल्‍ट की लिंक दिखेगी। रिजल्ट को क्लिक करने के बाद रॉल नंबर भरने का ऑप्शन आएगा। रॉल नंबर और रॉल कोड भरने के बाद स्क्रीन पर विद्यार्थियों को उनका स्कोरकार्ड दिख जाएगा। इसे आप डाऊनलोड कर सकते हैं। 

गौरतलब है कि पिछली बार मैट्रिक परीक्षा में 80.59 फीसदी विद्यार्थी पास हुए थे। परीक्षा परिणाम 26 मई को जारी किया गया था। बोर्ड के अनुसार पिछले साल 10वीं की बोर्ड परीक्षा में 4,03,392 विद्यार्थी फर्स्ट डिवीजन, 524217 सेकेंड डिवीजन और 2,75,402 विद्यार्थी थर्ड डिवीजन से पास हुए थे। इस बार 10वीं की बोर्ड परीक्षा प्रदेश के कुल 1525 केंद्र पर संपन्न हुई थी। सबसे ज्यादा परीक्षा केंद्र राजधानी पटना में बनाए गए थे। परीक्षा का आयोजन 17 फरवरी 2021 से 24 फरवरी 2021 तक किया गया था।