Kangana Ranaut: बीफ खाने से जुड़े बयान पर कंगना को मिली क्लीन चिट

High Court: कंगना रनौत को बीफ खाने से जुडे़ बयान पर पंजाब एंड हरियाणा हाई कोर्ट ने दी राहत, कोर्ट ने याचिका को माना अस्पष्ट

Updated: Sep 18, 2020 09:47 PM IST

Kangana Ranaut: बीफ खाने से जुड़े बयान पर कंगना को मिली क्लीन चिट
Photo Courtesy : Dnaindia

नई दिल्ली। बॉलीवुड अभिनेत्री कंगना रनौत इन दिनों विवाद का पर्याय बन चुकी हैं। तमाम विवादों और विरोधों के बीच कंगना रनौत के लिए एक राहत भरी खबर आई है। पंजाब और हरियाणा हाई कोर्ट ने कंगना रनौत को बीफ खाने से जुड़े उनके एक बयान को लेकर क्लीन चिट दे दी है।    

दरअसल कंगना ने पिछले साल 24  मई को किए एक ट्वीट में कहा था कि 'बीफ और अन्य तरह के किसी भी मीट को खाने में कोई समस्या नहीं है। यह धर्म की बात नहीं है। यह किसी से छुपी बात नहीं है कि कंगना आज से 8 साल पहले ही शाकाहारी बन चुकी है। लेकिन बावजूद इसके उसका सिर्फ किसी एक धर्म में विश्वास नहीं है। दूसरी तरफ खुद उसका भाई मीट खाता है।'  

कंगना के इसी ट्वीट को लेकर नवनीत गोपी नामक एक शख्स ने पंजाब और हरियाणा हाई कोर्ट में कंगना के बयान के खिलाफ याचिका दायर कर दी थी। याचिकाकर्ता का कहना था कि कंगना बीफ को प्रोमोट कर रही हैं। जिस वजह से उनकी धार्मिक भावना आहत हुई हैं। याचिकाकर्ता ने कोर्ट को बताया कि वे लुधियाना पुलिस स्टेशन में कंगना के खिलाफ शिकायत भी दे चुके हैं लेकिन अब तक कोई कार्रवाई नहीं की गई है।  

जस्टिस मनोज बजाज की बेंच इस मामले की सुनवाई कर रही थी। कोर्ट ने याचिका को अस्पष्ट और गलत ठहराते हुए याचिका को खारिज कर दिया। कोर्ट ने फैसला सुनाते हुए कहा कि ट्ववीट से यह कहीं भी प्रतीत नहीं हो रहा है कि कंगना बीफ को प्रोमोट कर रही हैं। अपितु वह खुद कह रही हैं कि वो पहले ही शाकाहारी हो चुकी हैं। तो वहीं एक अन्य पोस्ट में वो भारत और विदेशों के खानपीन के बीच का फर्क समझा रही हैं। ऐसे में यह कहीं भी नज़र नहीं आता कि कंगना ने कोई गुनाह किया हो। 

दूसरी तरफ सोशल मीडिया पर कंगना का एक पुराना वीडियो भी वायरल हो रहा है जिसमें वो खुद को मांसाहारी बता रही हैं और साथ में गोमांस खाने को सही बता रही हैं। वो खुद यह स्वीकार रही हैं कि उन्होंने खुद गोमांस खाया है।