ऑनलाइन रमी गेम मामले में विराट कोहली और तमन्ना भाटिया को केरल हाईकोर्ट ने भेजा नोटिस

ऑनलाइन रमी गेम के ब्रांड एम्बेसडर विराट कोहली को केरल हाईकोर्ट का नोटिस, याचिकाकर्ता ने रमी पर रोक लगाने की मांग की है, कहा है जुए की सीमाओं में आता है रमी, युवा हो रहे हैं बरबाद

Updated: Jan 27, 2021, 10:23 PM IST

ऑनलाइन रमी गेम मामले में विराट कोहली और तमन्ना भाटिया को केरल हाईकोर्ट ने भेजा नोटिस
Photo Courtesy: zoom

इंडियन क्रिकेट टीम के कैप्टन विराट कोहली, एक्ट्रेस तमन्ना भाटिया और एक्टर अजु वर्गीज को केरल हाईकोर्ट ने नोटिस भेजा है। केरल हाई कोर्ट ने आनलाइन रमी गेम पर रोक लगाने की याचिका पर सुनवाई करते हुए तीनों से जवाब मांगा है। कोर्ट ने राज्य सरकार, राज्य के आईटी विभाग, टेलीकॉम रेग्यूलेटरी अथॉरिटी ऑफ इंडिया (TRAI) और ऑनलाइन रमी गेम की दो प्राइवेट कंपनियों से भी जवाब तलब किया है।

 

विराट, तमन्ना और अजु ऑनलाइन रमी गेम के ब्रांड एम्बेसडर हैं। याचिका में कहा गया है कि रमी जुए की श्रेणी में आता है। और केरल में जुए के खेल पर रोक के लिए कानून है, ऐसे में आनलाइन रमी पर रोक लगानी चाहिए। बड़ी संख्या में युवाओं को इसकी लत लग चुकी है। तीनों सेलीब्रिटी लोगों को इससे होने वाले फायदे के बार में बताते हैं, लेकिन इससे होने वाले वित्तीय जोखिमों के बारे में कोई बात नहीं की जाती है।

आनलाइन रमी गेम का बिजनेस करीब 200 करोड़ रुपये है। इनपर आऱोप है कि इसका विज्ञापन दिखाकर  युवाओं को शिकार बनाया जा रहा है। विराट कोहली, तमन्ना भाटिया और कई रमी गेम विनर्स टीवी पर इन आनलाइन रमी एप्स का महिमा मंडन करते हैं। हारने से होने वाले नुकसान का कोई जिक्र नहीं होता है।

केरल हाईकोर्ट की दो सदस्यीय डिविजन बेंच इसकी सुनवाई कर रही थी। जिसमें जस्टिस एस. मनीकुमार और जस्टिस अनिल के. नरेंद्रन शामिल है। केरल के त्रिशूर जिले के पॉली वडक्कम की ओर से याचिका लगाकर आनलाइन रमी गेम पर रोक लगाने की मांग की गई है।

 याचिका में कहा गया है कि ऑनलाइन रमी गेम बहुत ज्यादा फेमस हो रहा है, इस पर कानूनी तौर पर रोक लगानी चाहिए। दरअसल केरल में 1960 का ऐसा कानून है लेकिन इसके बाद भी अब ऑनलाइन रमी जुए को रोकने के लिए कोई प्रयास नहीं किया गया।