वॉट्सऐप पर लोकसभा स्पीकर के नाम से बनाया फर्जी अकाउंट, सांसदों को भेजे मैसेज

लोकसभा के स्पीकर ओम बिड़ला ने कहा है कि इन मोबाइल नंबरों (7862092008, 9480918183 & 9439073870) से यदि उन्हें कोई संदेश आता है, तो वे इनपर ध्यान मत दें और इसकी सूचना उनके कार्यालय को दें

Updated: May 05, 2022, 09:47 AM IST

वॉट्सऐप पर लोकसभा स्पीकर के नाम से बनाया फर्जी अकाउंट, सांसदों को भेजे मैसेज

नई दिल्ली। लोकसभा स्पीकर ओम बिड़ला के नाम पर फर्जी वॉट्सऐप अकाउंट बनाकर सांसदों को मैसेज भेजने का प्रकरण सामने आया है। लोकसभा स्पीकर ने स्वयं ट्वीट कर इस मामले की जानकारी दी है, जिसके बाद अधिकारी हरकत में आ गए। मामले में पुलिस ने अब तक तीन लोगों को अरेस्ट किया है।

ओम बिड़ला ने बुधवार देर शाम एक ट्वीट में लिखा कि, ' कुछ शरारती तत्वों ने मेरे नाम से वॉट्सऐप पर फेक अकाउंट बना लिया है, जिसका नंबर 7862092008, 9480918183 और 9439073870 है। इन शरारती तत्वों से आप सावधान रहें। फेक अकाउंट बनाने वालों ने मेरी फोटो की प्रोफाइल पिक बनाई है और कई सांसदों को मेसेज भेजे हैं। संबंधित अथॉरिटी को मामले की जानकारी दे दी गई है।'

रिपोर्ट्स के मुताबिक पुलिस ने उन तीन आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है जिन्होंने ओम बिड़ला के नाम से फर्जी अकाउंट बनाने वाले साइबर शातिरों को सिम कार्ड कथित रूप से बेचे थे। इन साइबर ठगों ने सांसदों से पैसे की मांग की थी। पुलिस का कहना है कि साई प्रकाश दास, अविनाश नायक एवं दुष्मंता साहू को रविवार को गिरफ्तार किया गया। इन सभी तीन आरोपियों को पांच दिनों की पुलिस हिरासत में भेजा गया है। 

यह भी पढ़ें: जहां कांग्रेस की सीट, वहां कराए जा रहे हैं दंगे, कांग्रेस नेताओं ने BJP पर लगाए गंभीर आरोप

पुलिस ने ढेनकानाल में रेड के दौरान इनके पास से पहले से एक्टिवेटेड 19,641 सिम कार्ड्स, 14 लाख रुपए नगद, 48 मोबाइल फोन एवं अन्य दस्तावेज बरामद किए। पुलिस का कहना है कि एक बीएसएनल नंबर का इस्तेमाल करते हुए ढेनकानाल में सिम कार्ड को एक्टिवेट किया गया। पुलिस ने बताया कि दुष्मंत इस मामले का मास्टरमाइंड है, साई प्रकाश बीएसएनएल का डीलर और अविनाश उसका कर्मचारी है।