विदेशों से मुंबई लौटे यात्रियों को 7 दिनों का आइसोलेशन अनिवार्य, BMC दिन में 5 बार करेगी फोन

ओमिक्रॉन से निपटने के लिए मुंबई नगरपालिका यानी BMC ने बनाई रणनीति, वार्डरूम के जरिए रखेगी निगरानी, विदेशों से लौटे यात्रियों के लिए जारी की होम क्वारंटीन गाइडलाइन, सोसाइटी के रहवासियों से सतर्क रहने की अपील

Updated: Dec 04, 2021, 06:45 PM IST

विदेशों से मुंबई लौटे यात्रियों को 7 दिनों का आइसोलेशन अनिवार्य, BMC दिन में 5 बार करेगी फोन
Photo Courtesy: Indian express

मुंबई। कोरोना का नया ओमिक्रोन वेरिएंट देश दुनिया में पैर पसार रहा है। दुनिया के 38 देशों में नए वेरिएंट ने दस्तक दे दी है। भारत में भी इससे संक्रमित मरीज मिल चुके हैं। जिसके बाद अब राज्य सरकारें अलर्ट मोड पर आ गई हैं। बीते साल कोरोना हॉटस्पॉट रहे मुंबई में बीएमसी ने सख्त गाइडलाइन जारी कर दी है। जिससे शुरु से ही स्थिति पर कंट्रोल रखा जा सके। बीएमसी ने विदेशों से मुंबई लौटे लोगों के लिए होम क्वारंटीन के नई गाइडलाइन जारी कर दी है। खतरे वाले देशों से लौटे यात्रियों को 7 दिनों तक आइसोलेशन में रहना होगा। वहीं हाउसिंग सोसाइटीज के निवासियों से अपील की गई है कि अगर उनकी बिल्डिंग या इलाके में कोई विदेश से लौटकर आया है तो इसकी जानकारी पुलिस को तुरंत दें।

मुंबई नगरपालिका द्वारा ओमिक्रॉन से बचने के लिए एहतियात के तौर पर होम क्वारंटीन में रहने वाले लोगों की हेल्थ की निगरानी के लिए नियमों का नया सेट जारी किया है। इस नई होम क्वारंटीन गाइडलाइन के तहत यह सुनिश्चित किया जाएगा की लोग सुरक्षा नियमों का पालन कर रहे हैं या नहीं। विदेश से लौटे यात्रियों का हाल फोन पर जाना जाएगा और आखिरी दिन उनका टेस्ट करवाने के लिए एंबुलेंस के साथ मेडिकल टीमों को उनके पतों पर भेजा जाएगा।

बीएमसी के वॉर्ड वॉर रूम की टीम रोजाना 5 बार क्वारंटीन में रह रहे लोगों को 5 बार फोन लगाकर उनकी सेहत का अपड़ेट लेगी, वहीं यह भी सुनिश्चित करेगी की क्या वे वास्तव में नियमों का पालन कर रहे हैं या नहीं।

इसके लिए एक सॉफ्टवेयर की मदद ली जाएगी। जिसमें यात्रियों के पते के हिसाब से उन्हें ग्रेटर मुंबई नगर निगम या MGGM के 24 वार्डों में बांट दिया जाएगा। वॉर्ड वार सभी लोगों का पता WWR टीम अपने फील्ड मेडिकल ऑफिसर्स को देगी, ताकि होम क्वारंटीन में मौजूद लोगों की स्वास्थ्य निगरानी आसानी से की जा सके।

और पढ़ें: देश में 40 से अधिक उम्र वालों को लगाएं तीसरा डोज, टॉप साइंटिस्ट्स पैनल की सरकार से सिफारिश

फोन पर खराब सेहत की जानकारी मिलने पर एंबुलेंस के साथ मेडिकल टीमें यात्रियों के पतों पर भी भेजी जाएंगी। वहीं सब कुछ ठीक रहने पर सातवें दिन होम क्वारंटीन के सातवें दिन WWR टीम यात्रियों का RTPCR टेस्ट करवाया जाएगा। टेस्ट नेगेटिव आने के बाद ही आने-जाने की छूट होगी। अगर इस दौरान अगर कोई पॉजिटिव पाया जाता है तो उनके इलाज की व्यवस्था की जाएगी।    

उच्च जोखिम वाले देशों से लौटे यात्रियों की जानकारी रोजाना सुबह 9 बजे मुंबई इंटरनेशनल एयरपोर्ट के ऑफिसर्स द्वारा दी जाएगी। ये लिस्ट डिजास्टर मैनेजमेंट यूनिट के निदेशक को भेजी जाएगी। जिसमें पिछले 24 घंटों में जोखिम वाले देशों से लौटे यात्रियों का नाम पता फोन नंबर समेत सारी डीटेल होगी।

वहीं कोरोना संक्रमित बच्चों के लिए जम्बो कोविड सेंटर का इंतजाम किया जा रहा है। पेरेंट्स से बच्चों का ध्यान रखने की अपील की गई है। स्कूल, कोचिंग और खेलते जाते वक्त बच्चे मास्क जरूर लगाए। वहीं  बीएमसी का कहना है कि शहर में ऑक्सीजन और वेंटिलेटर की कोई कमी नहीं होगी। शासन प्रशासन पूरी तरह से तैयार विश्व स्वास्थ्य संगठन ने इस वेरिएंट को पहले के अपेक्षा ज्यादा संक्रामक बताया है। ऐसे में लोगों को सतर्कता बरतने की अपील की जा रही है। विदेशों से आए लोगों की निगरानी की अपील की गई है। भारत में नए वेरिएंट के 3 संक्रमित मिल चुके हैं। इनमें से दो कर्नाटक में और एक गुजरात में मिला है।