बिहार में 8वीं बार नीतीशे कुमार, शपथ लेते ही PM मोदी को दी चेतावनी, तेजस्वी बने डिप्टी सीएम

शपथ लेते ही नीतीश कुमार ने PM मोदी पर साधा निशाना, बोले- जो 2014 में आए हैं वे 2024 में चले जाएंगे, डिप्टी सीएम पद शपथ लेते ही तेजस्वी ने मंच पर नीतीश कुमार के पैर छूकर आशीर्वाद लिया

Updated: Aug 10, 2022, 03:31 PM IST

बिहार में 8वीं बार नीतीशे कुमार, शपथ लेते ही PM मोदी को दी चेतावनी, तेजस्वी बने डिप्टी सीएम

पटना। नीतीश कुमार ने आठवीं बार बिहार के सीएम पद की शपथ ले ली है। वह देश के ऐसे पहले मुख्यमंत्री बन गए हैं जिसने आठ बार शपथ ली हो। राजभवन में आयोजित समारोह में तेजस्वी यादव ने उपमुख्यमंत्री के तौर पर शपथ ली। बिहार के सीएम के तौर पर शपथ लेते ही नीतीश कुमार ने भाजपा पर तीखा हमला बोला है। नीतीश कुमार ने पीएम नरेंद्र मोदी पर बिना नाम लिए ही हमला बोलते हुए कहा कि क्या 2014 में आने वाले 2024 में रह जाएंगे? हम रहें या न रहें, वो 2024 में नहीं रह जाएंगे।

नीतीश कुमार ने बीजेपी संग गठबंधन तोड़ने पर भी खुलकर बात की। उन्होंने कहा कि बीते डेढ़ महीने से हम कोई बातचीत नहीं कर रहे थे, जो हो रहा था, वह गलत था। नीतीश कुमार ने कहा कि, '2020 के चुनाव में जेडीयू के साथ क्या बर्ताव हुआ था। बीजेपी के साथ जाने से जेडीयू का नुकसान हुआ था। हमारी पर्टी के सब लोग बोलते रहे कि भाजपा को छोड़ दिया जाए। कुछ लोगों को लगता है कि विपक्ष खत्म हो जाएगा। हम भी तो विपक्ष में ही आ गए हैं। देश भर में घूमकर विपक्ष को मजबूत करेंगे। हम चाहेंगे कि पूरा विपक्ष एक होकर आगे बढ़े और प्लान तैयार करे। इन लोगों को 2014 में बहुमत मिला था, लेकिन अब तो 2024 आ रहा है।'

यह भी पढ़ें: गरीबों का निवाला छीनकर आजादी का जश्न, राशन में कटौती कर जबरन कार्ड धारकों को थमाया तिरंगा

बेटे तेजस्वी के शपथ समारोह में शामिल होने के लिए राबड़ी देवी भी राजभवन पहुंचीं। हालांकि, तेजस्वी के पिता और राजद सुप्रीमो लालू यादव खराब सेहत की वजह से कार्यक्रम में शामिल नहीं हो सके। भाजपा के स्पीकर विजय कुमार सिन्हा के खिलाफ महागठबंधन ने अविश्वास प्रस्ताव लाया है। मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार, फ्लोर टेस्ट के समय ही नए स्पीकर के लिए भी चुनाव होगा। महागठबंधन की ओर से स्पीकर की कुर्सी RJD को मिल सकती है। हालांकि, कांग्रेस ने भी स्पीकर की कुर्सी पर दावा किया है।

उधर भाजपा नेता पार्टी मुख्यालय के बाहर धरने पर बैठे हैं। इन्होंने नीतीश कुमार पर विश्वासघात करने का आरोप लगाया है। धरने पर बैठे भाजपा नेता शहनवाज हुसैन ने कहा कि नीतीश कुमार ने अच्छा सिला दिया हम लोगों के प्यार का। सूत्रों के मुताबिक तय फॉर्मूले में RJD को 16 मंत्री पद मिले हैं, जबकि JDU के खाते में 13 और कांग्रेस के 4 विधायक मंत्री बन सकेंगे। पूर्व CM जीतन राम मांझी ने अपनी पार्टी के लिए 2 मंत्री पद की मांग की है। उन्होंने कहा कि मैंने नीतीश कुमार को बिना शर्त समर्थन दिया है। पार्टी को कम से कम 2 मंत्री पद मिलने चाहिए।