खिलाड़ी, स्टेडियम सब नकली, बेरोजगार युवकों ने बनाई फेक IPL, रूसी सटोरियों को लगाया चूना

गुजरात के वडनगर में कुछ लोग एक फर्जी क्रिकेट लीग चला रहे थे, लेकिन इसपर सच का सट्टा लग रहा था, रूस के लोग इसे आईपीएल समझकर सट्टा लगाते रहे और भारतीय बेरोजगार युवक उन्हें चुना लगाते रहे

Updated: Jul 11, 2022, 07:13 PM IST

खिलाड़ी, स्टेडियम सब नकली, बेरोजगार युवकों ने बनाई फेक IPL, रूसी सटोरियों को लगाया चूना

वडनगर। गुजरात के वडनगर स्थित एक गांव से नकली आईपीएल का एक अजीबोगरीब मामला सामने आया है। यहां नकली मैदान पर नकली क्रिकेटर्स और नकली कमेंटेटर की मदद से एक पूरी फेक आईपीएल लीग चलाई जा रही थी। लेकिन उसपर सट्टा असली का लगाया जा रहा है और वो भी विदेश से।

रिपोर्ट्स के मुताबिक, वडनगर के मॉलीपुर गांव में कुठ लोगों ने एक खेत किराए से लिए। उसे क्रिकेट मैदान में तब्दील किया, फ्लड लाइट लगाई गई और पिच भी तैयार की गई मल्टी कैम सैटअप, कमेंट्री बॉक्स समेत हर तरह की व्यवस्था की गई, ताकि ये पूरा आईपीएल की तरह ही लगे। क्रिकेट खेलने के लिए गांव के बेरोजगार लड़कों और मजदूरों को किराये पर लिया जाता था, जिन्हें प्रति मैच 400 रुपये मिलते थे और पूरा मैच खेला जाता था।

यह भी पढ़ें: चीन को पीछे छोड़ 2023 तक सर्वाधिक आबादी वाला देश बन जाएगा भारत: UN ने जारी की चौंकाने वाली रिपोर्ट

इसके लिए किराए पर एक नकली कमेंटेटर भी लाया गया था जो हर्षा भोगले की आवाज़ में क्रिकेट कमेंट्री कर रहा था। इस क्रिकेट लीग में चेन्नई सुपर किंग्स, मुंबई इंडियंस, गुजरात टाइटंस और अन्य आईपीएल की टीम के नाम से टीम इसमें शामिल हो रही थी। रुस के साथ साथ यूरोप के कई देशों से सट्टे लग रहे थे। सबसे खास बात तो यह है कि इन मैचों का यूट्यूब पर लाइव प्रसारण भी किया जा रहा था।

इस फर्जीवाड़े का पर्दाफाश होने तक इस फेक लीग में क्वार्टर फाइनल तक मुकाबला खेला जा चुका था। इतना ही नहीं इंटरनेट से स्टेडियम के आवाज तक डाउनलोड किए गए थे, जिसे चौके-छक्के लगने पर चलाया जाता था। रूस में बैठा व्यक्ति इस पूरे नकली IPL को संचालित करता था और उसी के इशारे पर सारी व्यवस्थाएं की गई थी। खिलाड़ियों को अंपायर यह बताता था कि आपको कब चौका मारना है, कब आउट होना है।

फिलहाल पुलिस ने क्रिकेट किट, स्पीकर, लाइट, मल्टी कैमेरा समेत कई दर्जन सामान भी बरामद किए हैं। मेहसाणा पुलिस ने इस मामले में चार आरोपियों को गिरफ्तार किया है। चारों पर धोखाधड़ी, सट्टेबाजी समेत अन्य मामलों में केस दर्ज किया गया है। अभी इस मामले में एक आरोपी की तलाश है, जो कि रूस में रहता है।